Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

एप्पल में नौकरी पाने के लिए शख्स ने हैक कर ली कंपनी, मिली ऐसी सज़ा...

एडिलेड में रहने वाले छात्र ने मेलबर्न स्थित एक अन्य किशोर के साथ मिलकर एप्पल के मेनफ्रम को दिसंबर 2015 और फिर 2017 की शुरुआत में हैक किया था और आंतरिक दस्तावेजों एवं डाटा डाउनलोड किया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एप्पल में नौकरी पाने के लिए शख्स ने हैक कर ली कंपनी, मिली ऐसी सज़ा...

किशोर ने नौकरी पाने को किया एपल का सिस्टम हैक

सिडनी:

आस्ट्रेलिया में 17 वर्षीय एक स्कूली छात्र ने नौकरी पाने के लिए एप्पल का सिस्टम ही हैक कर लिया. उसे उम्मीद थी कि कंपनी उसकी क्षमता से प्रभावित होकर नौकरी दे देगी.

'एबीसी डॉट नेट' के अनुसार, एडिलेड में रहने वाले छात्र ने मेलबर्न स्थित एक अन्य किशोर के साथ मिलकर एप्पल के मेनफ्रम को दिसंबर 2015 और फिर 2017 की शुरुआत में हैक किया था और आंतरिक दस्तावेजों एवं डाटा डाउनलोड किया था.

उसने कहा कि झूठे डिजिटल क्रेडेंशियल्स बनाने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी में अपनी 'उच्च स्तर की विशेषज्ञता' का उपयोग किया, जिससे एप्पल के सर्वर को लगा कि वह कंपनी का एक कर्मचारी है. उसके कामों की रिपोर्ट फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) को दी गई, जिन्होंने ऑस्ट्रेलियाई फेडरल पुलिस (एएफपी) से संपर्क किया.

दुनिया के सबसे बड़े देश में है सिर्फ 1 ATM, फिर भी लोगों को कोई दिक्कत नहीं, मज़े से निकालते हैं पैसे


अपने मुवक्किल की रक्षा करते हुए किशोर के वकील मार्क ट्विग्स ने अदालत को बताया कि उनके मुवक्किल को उस समय अपने काम की गंभीरता के बारे में पता नहीं था और उन्हें लगा कि कंपनी उन्हें नौकरी दे सकती है.

ट्विग्स ने कहा, "यह तब शुरू हुआ, जब मेरा मुवक्किल 13 साल का था. उसे अपराध की गंभीरता के बारे में नहीं पता था और उम्मीद थी कि जब इस बारे में सभी को पता चलेगा तब उसे कंपनी में नौकरी मिलेगी."

वकील ने यह भी कहा कि एक ऐसा ही एक मामला यूरोप में हुआ था और हैकर को एप्पल में नौकरी मिल गई थी. 

गंजेपन और मोटापे की वजह से बीवी ने छोड़ा...6 पैक्स बनाने के बाद ऐसे बदल गई जिंदगी, देखें Photos

उन्होंने कहा कि एप्पल को इस हैक से किसी प्रकार का वित्तीय या बौद्धिक नुकसान नहीं हुआ.

किशोर ने एडिलेड यूथ कोर्ट का सामना किया और कई कंप्यूटर हैकिंग के आरोपों को माना.

मजिस्ट्रेट डेविड व्हाइट ने इस मामले में सजा नहीं सुनाई और उसे नौ महीने तक अच्छा व्यवहार रखने के लिए 500 डॉलर के बांड पर रखा.

वाशिंगटन में 50 लाख लोगों की बिजली गायब, तूफान 'ओहायो' से बाढ़ का खतरा

इनपुट - आईएएनएस

टिप्पणियां

VIDEO: मोबाइल का सच



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs BAN: शेफाली वर्मा ने ताबड़तोड़ छक्के जड़कर तोड़ा बांग्लादेश का 'गुरूर', देखें पारी का पूरा Video

Advertisement