NDTV Khabar

येरूशलम पर ट्रंप के फैसले को पलटने की मांग, फैसले को बताया अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन

अरब के विदेश मंत्रियों ने अमेरिका से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा येरूशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के फैसले को रद्द करने की मांग की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
येरूशलम पर ट्रंप के फैसले को पलटने की मांग, फैसले को बताया अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. येरूशलम पर ट्रंप के फैसले को पलटने की मांग
  2. फैसले को बताया अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन
  3. अरब के विदेश मंत्रियों ने की फैसला पलटने की मांग
काहिरा: अरब के विदेश मंत्रियों ने अमेरिका से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा येरूशलम को इस्राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के फैसले को रद्द करने की मांग की. उन्होंने इसे गंभीर और अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन बताया.  प्रस्ताव में मंत्रियों ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से एक प्रस्ताव लाने की मांग की जिसमें ट्रंप के फैसले की आलोचना की जाये,  हालांकि यह अनुमान भी जताया कि इस पर वॉशिंगटन वीटो का इस्तेमाल कर सकता है.

यह भी पढ़ें:  येरूशलम को इजराइल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के खिलाफ तुर्की में प्रदर्शन

फलस्तीन के विदेश मंत्री रियाद अल मालिकी ने काहिरा में एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि अमेरिका इस प्रस्ताव पर रोक लगा देता है तो अरब संयुक्त राष्ट्र महासभा में इस तरह के प्रस्ताव की मांग करेगा. कल रात शुरू हुई आपात बैठक में पेश दो पन्नों के प्रस्ताव में अमेरिकी उत्पादों का बहिष्कार या वॉशिंगटन के साथ संबंधों को निलंबित या कम करने जैसी किसी दंडात्मक कार्रवाई का जिक्र नहीं है.

यह भी पढ़ें: श्रीलंका ने हंबनटोटा बंदरगाह 99 साल के लिए चीन को सौंपा

टिप्पणियां
गाजा पट्टी और वेस्ट बैंक में सड़कों पर फलस्तीनी लोगों की जो नाराजगी नजर आई, यह कदम उसके मुताबिक नहीं है. यहां ट्रंप के फैसले के खिलाफ तीन दिन तक हिंसक प्रदर्शन हुए थे. अरब लीग के प्रमुख अहमद अबुल घेइट ने कहा, ‘‘ हमने राजनीतिक फैसला लिया है जो सड़कों पर प्रदर्शन का प्रतिबिंब नहीं है. राजनीतिक काम एक जिम्मेदारी वाला काम है. येरूशलम पर बीते 50 वर्षों से कब्जा है. यह लंबी लड़ाई और तेज होगी. ’’ 

VIDEO: अमेरिका ने सैयद सलाहुद्दीन को ग्लोबल आतंकी घोषित किया
प्रस्ताव में कहा गया है कि मंत्री महीनेभर के भीतर फिर मुलाकात करेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement