NDTV Khabar

कैलिफोर्निया के बार में हुई गोलीबारी, 12 लोगों की मौत, हमलावर भी ढेर 

अमेरिका के लॉस एंजिलिस में एक पब में हुए फायरिंग (California Shooting) में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कैलिफोर्निया के बार में हुई गोलीबारी, 12 लोगों की मौत, हमलावर भी ढेर 

जब हमला हुआ उस समय कॉलेज विद्यार्थियों की पार्टी चल रही थी.

वाशिंगटन: अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित थाउजंड ओक्स शहर में कॉलेज छात्रों के बीच मशहूर भीड़-भाड़ वाले डांस बार में एक हमलावर की गोलीबारी (California Shooting) में एक पुलिस अधिकारी समेत 12 लोगों की मौत हो गई. यह घटना अमेरिका में गोलीबारी की सबसे भीषण घटनाओं में से एक है. काले कोट पहने हमलावर ने बार के अंदर अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दीं. हमले में कई लोग घायल हुए. हालांकि लॉस एंजिलिस के बाहरी क्षेत्र में स्थित बॉर्डरलाइन बार एंड ग्रिल के अंदर हमलावर भी मृत पाया गया. बहरहाल अभी यह साफ नहीं है कि उसे अधिकारियों ने मार गिराया या उसने खुद को गोली मारी.

वेंटूरा काउंटी शेरिफ जेफ डीन ने इस घटना को 'भयावह' बताया है. उन्होंने कहा, 'वहां का दृश्य बहुत भयावह है. चारों ओर खून-ही-खून नजर आ रहा है. मैं करीब नहीं जाना चाहता और ना ही घटनास्थल पर किसी चीज से छेड़छाड़ करना चाहता हूं, क्योंकि मैं संभावित जांच को प्रभावित नहीं करना चाहता.'

उन्होंने बताया कि हमलावर की मंशा और पहचान की जा रही है. हालांकि जांचकर्ताओं को बार के अंदर किसी तरह का राइफल नहीं मिला. उन्होंने कहा, 'अब तक हमें यही ज्ञात है कि सिर्फ एक बंदूक थी, लेकिन इस जानकारी में बदलाव आ सकता है क्योंकि हम इमारत की गहन छानबीन कर रहे हैं.'

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि 'उन्हें कैलिफोर्निया में हुई इस खौफनाक गोलीबारी की जानकारी मिली.' उन्होंने कहा, 'कानून लागू करने वाली एजेंसी के अधिकारी और फर्स्ट रेस्पॉन्डर के अधिकारी तथा एफबीआई घटनास्थल पर मौजूद है. इस वक्त तक 13 लोगों के मरने की रिपोर्ट है. बार पहुंचने वाले पुलिस अधिकारी के साथ हमलावर भी मारा गया है.' 

टिप्पणियां
ट्रंप ने कई ट्वीट कर कहा, 'पुलिस ने बहुत बहादुरी दिखाई. कैलिफोर्निया हाईवे पट्रोल घटना के महज तीन मिनट के अंदर वहां मौजूद थी. बार के अंदर जाने वाले पहले अधिकारी को कई गोलियां लगीं. उस शेरिफ सार्जंट ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. ईश्वर सभी पीड़ितों और उनके परिवारों का भला करे. कानून लागू करने वाली एजेसियों का शुक्रिया.'

अमेरिका में दो सप्ताह से भी कम समय के अंदर भीषण गोलीबारी की यह दूसरी घटना है. उन्होंने बताया, 'हमें इस बात का कोई अंदाजा नहीं है कि इसका आतंकवाद से कोई संबंध है. जैसा कि आप जानते हैं कि जांच चल रही है और जितनी जल्द जानकारी मिलेगी, उतनी जल्द हम यह सुनिश्चित कर पायेंगे कि संदिग्ध कौन है और इस खौफनाक घटना के पीछे उसकी मंशा क्या है.' ए 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement