NDTV Khabar

पाक में वाघा सीमा पर आत्मघाती हमला, 60 की मौत, 200 घायल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाक में वाघा सीमा पर आत्मघाती हमला, 60 की मौत, 200 घायल
वाघा बॉर्डर:

पाकिस्तान वाघा सीमा पर ध्वजों को नीचे उतारने के लिए आयोजित समारोह के तुरंत बाद हुए एक आत्मघाती विस्फोट में 60 लोग मारे गए तथा करीब 200 अन्य घायल हो गए। पंजाब पुलिस के महानिरीक्षक मुश्ताक सुखेरा ने बताया, वाघा सीमा पर रेंजर परेड समारोह देखने के बाद बड़ी संख्या में लोग बाहर निकल रहे थे कि उसी समय आत्मघाती हमलावर ने एक निकासी गेट के समीप खुद को उड़ा दिया। उन्होंने साथ ही बताया कि मारे गए लोगों में तीन रेंजर शामिल हैं।

सुरक्षा प्रबंधों के संबंध में एक सवाल के जवाब में आईजी ने बताया, रेंजरों ने कड़े सुरक्षा उपाय किए थे, लेकिन आत्मघाती हमलावर की जांच करना मुश्किल था। अधिकारियों ने बताया कि यह एक आत्मघाती हमला था, जिसमें महिलाओं, बच्चों और सुरक्षाकर्मियों समेत कम से कम 60 लोग मारे गए तथा 200 अन्य घायल हो गए।

मुश्ताक ने बताया कि 20-25 साल की उम्र के बीच का हमलावर अपने साथ 20-25 किलोग्राम विस्फोटक सामग्री लिए हुए था और इसमें से कुछ उसने अपनी जैकेट में छुपायी हुई थी।

पंजाब रेंजर्स के महानिदेशक खान ताहिर खान ने बताया, परेड लेन की ओर जाने वाले मुख्य गेट में प्रवेश करने में विफल रहने पर आत्मघाती हमलावर ने 500-600 मीटर की दूरी पर खुद को उड़ा दिया। गेट पर मौजूद तीन रेंजर्स मारे गए जबकि पांच अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पिछले वर्ष सितंबर में पेशावर में एक चर्च पर आत्मघाती हमले के पीछे जिम्मेदार समूह और अलकायदा से जुड़े आतंकवादी समूह जनदुल्लाह ने हमले की जिम्मेदारी ली है। पेशावर हमले में कम से कम 78 ईसाई मारे गए थे।

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के लड़ाकू दस्ते के प्रवक्ता अहमद मारवात ने कहा कि यह हमला सेना के जर्ब-ए-अज्ब और वजीरिस्तान अभियान के जवाब में किया गया है, लेकिन सितंबर में टीटीपी से अलग हुए जमात-उल-अहरार गुट ने जनदुल्लाह धड़े के दावे को खारिज करते हुए कहा कि उन्होंने यह हमला किया है।

लाहौर से 22 किलोमीटर दूर वाघा सीमा पर हर शाम भारी भीड़ इस लोकप्रिय समारोह को देखने के लिए एकत्र होती है। पूर्व में मिली रिपोर्टों में बताया गया था कि यह संभवत: सिलेंडर विस्फोट था। मुहर्रम के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए थे।

आईजी ने कहा, हमें रिपोर्टे मिली थी कि कुछ प्रतिबंधित संगठन शियाओं, धार्मिक हस्तियों, जन रैलियों और महत्वपूर्ण इमारतों को निशाना बना सकते हैं। पुलिस अधिकारी ने इसके साथ ही बताया, वाघा सीमा पर पाकिस्तानी अर्धसैनिक बल की चौकी के समीप एक रेस्त्रां के बाहर विस्फोट हुआ। वाघा सीमा पर भारतीय शहर अमृतसर तथा पाक शहर लाहौर के बीच वाघा एकमात्र सड़क संपर्क है।

मुश्ताक ने बताया, हमारी टीमों ने पुष्टि की है कि यह एक आत्मघाती विस्फोट था। आईजी ने बताया कि आत्मघाती हमलावर सीमा पर परेड ग्राउंड के गेट पर रुका और जब लोग गेट के पास एकत्र हुए तो उसने बम में विस्फोट कर दिया। एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटनास्थल पर बाल बेयरिंग पाए गए हैं।

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने विस्फोट पर ‘शोक और दुख’ जाहिर करते हुए इसकी निंदा की है और प्रशासन को घायलों को बेहतर से बेहतर इलाज मुहैया कराने का आदेश दिया है।

रक्षा मंत्री ख्वाजा मुहम्मद आसिफ ने देश में आतंकवाद से लड़ने की सरकार की प्रतिबद्धता दोहरायी। उन्होंने एक बयान में कहा कि आतंकवादी, आतंकवाद से लड़ने की राष्ट्र की प्रतिबद्धता को कमजोर नहीं कर सकते। रेडियो पाकिस्तान ने यह जानकारी दी है।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement