अमेरिका: यहूदी प्रार्थना स्थल पर गोलीबारी में 11 लोगों की मौत, कई घायल

पिट्सबर्ग पब्लिक सेफ्टी डिपार्टमेंट जिसमें पुलिस भी शामिल है, ने ट्वीट कर बताया कि विलकिंस एंड शौडी इलाके में एक शूटर है.

अमेरिका: यहूदी प्रार्थना स्थल पर गोलीबारी में 11 लोगों की मौत, कई घायल

पिट्सबर्ग:

अमेरिका के पिट्सबर्ग में शनिवार को यहूदियों के एक प्रार्थना स्थल पर हुई गोलीबारी में कम से कम 11 लोग मारे गए हैं जबकि तीन पुलिसकर्मियों सहित कई अन्य घायल हो गए हैं। स्थानीय मीडिया में इस संबंध में खबरें आयी हैं. हालांकि आधिकारिक रूप से यह सूचना नहीं मिली है कि घटना में कितने लोग मारे गए हैं और कितने लोग घायल हुए हैं. लेकिन स्थानीय मीडिया में आयी खबरों के अनुसार, 11 लोग मारे गए हैं जबकि तीन पुलिसकर्मियों सहित छह लोग घायल हुए हैं.स्थानीय मीडिया में आयी खबरों के अनुसार, पुलिस की जवाबी कार्रवाई में घायल होने के बाद हमलावर रॉबर्ट बोवर्स (46) ने आत्मसमर्पण कर दिया. खबरों के अनुसार हमलावर दाढ़ी वाला और श्वेत व्यक्ति है. घायल होने के कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

Newsbeep


एफबीआई इसे घृणा अपराध मानकर घटना की जांच कर रही है. गोलीबारी करने से पहले हमलावर कथित रूप से भवन में घुसा और चिल्लाया ‘‘सभी यहूदियों को मर जाना चाहिए. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसे बेहद दुखद स्थिति बताया. उन्होंने कहा, पिट्सबर्ग में जितना सोचा था हालात उससे बहुत ज्यादा दुखद हैं. हमला पिट्सबर्ग के स्किवरेल हिल में स्थित ट्री ऑफ लाइफ सिनगॉग में हुआ है. घटना के बाद ट्रंप ने कहा कि ऐसे अपराध करने वाले व्यक्ति को मौत की सजा दी जानी चाहिए. वहीं यहूदी राष्ट्र इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने घटना के बाद अमेरिका के साथ एकजुटता जताते हुए एक वीडियो संदेश में कहा, पिट्सबर्ग के सिनगॉग में हुआ जानलेवा हमले से मेरा दिल बहुत दुखी है और मैं सदमे में हूं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


टीवी पर दिख रही तस्‍वीरों में पुलिस की SWAT टीम और एंबुलेंस को देखा जा सकता है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह घटना की निगरानी कर रहे हैं. उन्होंने ट्वीट कर लोगों से सुरक्षित स्थानों पर रहने की अपील की.