NDTV Khabar

मेक्सिको के नाइट क्लबों में हमले में 15 लोगों की मौत, कई घायल 

नुएवो ल्योन के अभियोजक कार्यालय ने एक बयान में कहा कि ये हमले शनिवार की देर रात और रविवार के तड़के मोंटेरे , ग्वाडैलुपे और जुआरेज इलाकों में हुए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेक्सिको के नाइट क्लबों में हमले में 15 लोगों की मौत, कई घायल 

प्रतीकात्मक चित्र

मोंटेरे: मेक्सिको के कुछ नाइट क्लबों में हुए हमले में 15 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं. स्थानीय पुलिस के अनुसार हमला मोंटेरे शहर स्थित एक क्लब में किया गया. नुएवो ल्योन के अभियोजक कार्यालय ने एक बयान में कहा कि ये हमले शनिवार की देर रात और रविवार के तड़के मोंटेरे , ग्वाडैलुपे और जुआरेज इलाकों में हुए. अभियोजक कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा कि कुल छह नाइट क्लबों में हमले हुए. पुलिस के अनुसार इन हमलों में जान गवाने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है. अभी तक यह साफ नहीं है कि क्या ये हमले एक - दूसरे से जुड़े हैं.

यह भी पढ़ें:सिनसिनाटी नाइटक्लब हमला : पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शियों से सामने आने की अपील की

गौरतलब है कि बीते कुछ समय से इस तरह के कई हमले सामने आए हैं. जिनमें कई बेकसूरों को अपनी जान गवानी पड़ी. तुर्की के एक नाइट क्लब में पिछले ही साल हुए गोलाबारी में 39 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था. जबकि कई दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे. याद हो कि तुर्की में वर्ष 2016 के खूनखराबे के बाद बेहतर भविष्य की उम्मीदों के साथ एक नाइटक्लब में नव वर्ष का जश्न मना रहे लोगों एक व्यक्ति ने अंधाधुंध गोलीबारी की, जिसमें कम से कम 39 लोगों की मौत हो गई तथा 65 अन्‍य लोग घायल हो गए.

यह भी पढ़ें: भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक की उत्तर कैरोलीना में गोलीबारी में मौत

हालांकि बाद में पुलिस अधिकारियों ने इसे आतंकवादी हमला करार दिया था. इस हमले को लेकर उस समय विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज ने ट्वीट कर अपना दुख जताया था. साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस्तांबुल में हुए आतंकी हमले को 'बर्बरतापूर्ण' करार देते हुए कहा कि इस दुख की घड़ी में भारत, तुर्की के साथ खड़ा है. मोदी ने ट्वीट किया, 'इस्तांबुल में हमले में लोगों की त्रासदपूर्ण मौत पर तुर्की की सरकार और जनता के प्रति हृदय से संवेदना प्रकट करता हूं'. उन्होंने कहा, 'हम इस बर्बरतापूर्ण हमले की कड़ी निंदा करते हैं और इस दुख की घड़ी में तुर्की के साथ खड़े हैं'.

टिप्पणियां
VIDEO: खूंटी से अगवा जवानों को छुड़ाया गया.


तुर्की के अधिकारियों ने बताया कि रियान क्लब में गोलीबारी करने से पहले हमलावर ने प्रवेश द्वार पर खड़े एक पुलिस कर्मी और एक असैन्य नागरिक की गोली मारकर हत्या कर दी थी. रियान क्लब में अक्सर बड़ी पार्टियों और समारोह का आयोजन किया जाता है.गृह मंत्री सूलेमान सोयलू ने बताया कि हमलावर वहां से फरार हो गया और अब उसके लिए एक बड़ा तलाशी अभियान शुरू किया गया है, जिससे उम्मीद है कि वह जल्द पकड़ा जाएगा'.सोयलू ने टेलीविजन पर प्रसारित एक बयान में कहा था कि 21 पीड़ितों की पहचान की गई है और उनमें से 16 विदेशी और पांच तुर्की के हैं.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement