Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Australia Bushfire: भूख से मर रहे जानवरों को बचाने के लिए सरकार ने निकाली तरकीब, आसमान से पहुंचा रही है खाना

न्यू साउथ वेल्व्स के पर्यावरण मंत्री मैट कीन ने डेली मेल से बात करते हुए कहा, भले ही ये जानवर अपनी जान बचाने में कामयाब रहे हैं लेकिन उनके पास खाने का कोई स्त्रोत नहीं है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Australia Bushfire: भूख से मर रहे जानवरों को बचाने के लिए सरकार ने निकाली तरकीब, आसमान से पहुंचा रही है खाना

जानवरों को बचाने के लिए हेलीकॉप्टर से सब्जियां फेंकी जा रही हैं.

खास बातें

  1. बुशफायर के बाद अब भूख से मर रहे जानवरों को बचाने में जुटी सरकार
  2. हेलीकॉप्टर से पहुंचा रही जानवरों के लिए खाना
  3. आग के कारण जानवरों के खाने के स्त्रोत भी हुए खत्म
कैनबरा:

ऑस्ट्रेलिया (Australia) में अभी भी आग पर पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका है. हालांकि, अब वहां के कई इलाकों में अब आग पर काबू पा लिया गया है, जिसके बाद एक बार फिर से नए पेड़-पौधे भी उगने लगे हैं. इसके बाद अब वहां के फायरफाइटर और अन्य लोग ज्यादा से ज्यादा जानवरों को बचाने की कोशिशों में लगे हुए हैं. अंग्रेजी वेबसाइट डेली मेलकी रिपोर्ट के मुताबिक इस आग में एक अरब से अधिक जानवरों की मौत हो गई है. इस वजह से यह जरूरी है कि जो जानवर आग से बचे हैं वो खाना न मिलने के कारण न मरें क्योंकि आग के कारण उनके खाने के स्त्रोत भी खत्म हो गए हैं. 

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली सिक्ख महिला ने पेश की मिसाल, बुशफायर पीड़ितों के लिए...


इस वजह से जानवरों की जान बचाने के लिए ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्व्स (New South Wales) सरकार ने आसमान से खाना गिरा कर जानवरों को बचाने का जिम्मा उठाया है. इस उद्देश्य से सरकार लगातार गाजर और शकरगंद हेलीकॉप्टर से जंगलों में फेंक रही है. एनएसडब्ल्यू नेशल पार्क सर्विस द्वारा अब तक 2,200 किलो सब्जियां, जानवरों के लिए जंगलों में गिराई गई हैं. न्यू साउथ वेल्व्स के पर्यावरण मंत्री मैट कीन ने डेली मेल से बात करते हुए कहा, भले ही ये जानवर अपनी जान बचाने में कामयाब रहे हैं लेकिन उनके पास खाने का कोई स्त्रोत नहीं है. 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, ''ये वालाबीइज (Wallabies) आग से बच गए लेकिन अब उनके पास खाने के लिए कुछ नहीं है क्योंकि आग के कारण वहां के सभी खाने के स्त्रोत खत्म हो गए हैं''. उन्होंने यह भी कहा, ''वालाबीइज पहले ही काफी परेशान हैं क्योंकि अब यहां पर सूखे की स्थिति उत्पन्न हो गई है और इन परिस्थितियों में उनके लिए जिंदा रहना एक काफी बड़ी चुनौती है''.

ऑस्ट्रेलिया में पशुओं की वक्ता लिन वाइट ने कहा, वो आग से बचे सभी जानवरों की जिंदगी को वापस पटरी पर लाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और इस दिशा में हर संभव प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ''जिस तरह से आग के बाद कई सारे रास्ते कुछ हफ्तों को लिए बंद कर दिए गए हैं, उसके कारण जानवरों की, खाना न मिलने के कारण मौत का जोखिम बढ़ गया है. यह और भी ज्यादा दुखद होगा अगर अब भी हम जानवरों की जान नहीं बचा पाए''.  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. World News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... पीएम मोदी ने खाया लिट्टी-चोखा, साथ में पी कुल्हड़ वाली चाय, देखें Photo

Advertisement