NDTV Khabar

बाल शोषण पर गलत खबर के बाद बीबीसी के महानिदेशक का इस्तीफा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाल शोषण पर गलत खबर के बाद बीबीसी के महानिदेशक का इस्तीफा

खास बातें

  1. बीबीसी के कार्यक्रम में एक पूर्व कंजरवेटिव नेता पर गलत तरह से बाल शोषण का आरोप लगाए जाने का मामला सामने आने के एक दिन बाद इस ब्रिटिश मीडिया संगठन के महानिदेशक जॉर्ज एंटविस्टले ने इस्तीफा दे दिया है।
लंदन:

बीबीसी के एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम में एक पूर्व कंजरवेटिव नेता पर गलत तरह से बाल शोषण का आरोप लगाए जाने का मामला सामने आने के एक दिन बाद इस ब्रिटिश मीडिया संगठन के महानिदेशक जॉर्ज एंटविस्टले ने इस्तीफा दे दिया है।

एंटविस्टले और बीबीसी ट्रस्ट के अध्यक्ष लॉर्ड पैटेन ने ब्रॉडकास्टिंग हाउस के बाहर बयान जारी कर यह जानकारी दी। बीबीसी के मुताबिक एंटविस्टले ने कहा कि पिछले हफ्ते हुए पूरी तरह अस्वीकार्य घटनाक्रम ने उन्हें सम्मानजनक तरीके से उक्त कदम उठाने के लिए प्रेरित किया।

उन्होंने कहा, बीबीसी में निर्माता और नेतृत्व करने के 23 साल के अनुभव के साथ जब मुझे जिम्मेदारी दी गई, तो मुझे भरोसा था कि ट्रस्टियों ने सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार को इस पद के लिए चुना है, जो आगे आने वाली चुनौतियों और अवसरों को संभाल सके।

एंटविस्टले ने कहा, हालांकि पिछले कुछ हफ्तों के पूरी तरह अस्वीकार्य घटनाक्रम ने मुझे इस नतीजे पर पहुंचाया कि बीबीसी को किसी नए नेता की नियुक्ति करनी चाहिए। पैटेन ने कहा कि नए कार्यवाहक महानिदेशक टिम डेवी होंगे। उन्होंने एंटविस्टले के इस्तीफे को अपने जीवन के सबसे दुखद क्षणों में से एक बताया।


इस्तीफे की खबर के बाद संस्कृति मंत्री मारिया मिलर ने कहा, यह अफसोसजनक है, लेकिन सही फैसला है। यह जरूरी है कि महत्वपूर्ण राष्ट्रीय संस्थान में विश्वसनीयता और जनता का भरोसा बहाल किया जाए। इससे एक दिन पहले एंटविस्टले की काफी आलोचना हुई। रेडियो 4 के टुडे कार्यक्रम में जॉन हंफरेज ने उनकी तीखी निंदा की थी।

लेबर पार्टी की उप नेता हैरियट हरमन ने भी कहा कि बीबीसी के न्यूजनाइट कार्यक्रम में कुछ गलत हुआ है। उन्होंने कहा, महानिदेशक ने केवल आठ सप्ताह पहले ही बीबीसी का नेतृत्व संभाला था, लेकिन उन्हें निर्णायक रूप से यह दर्शाने की जरूरत थी कि वह यहां दिखाई देने वाली समस्याओं पर ध्यान दे रहे हैं।

टिप्पणियां

टुडे कार्यक्रम में एंटविस्टले ने न्यूजनाइट कार्यक्रम पर प्रसारित हुए तथ्यों को लेकर माफी मांगी, जिनके चलते कंजरवेटिव पार्टी के पूर्व कोषाध्यक्ष अलिस्टेयर मैकअल्पाइन का नाम आरोपी के तौर पर सामने आया।

बीबीसी के न्यूजनाइट कार्यक्रम में आरोप लगाया गया था कि कंजरवेटिव पार्टी के एक नेता ने 1970 के दशक में एक बाल संरक्षण गृह के एक किशोरवय बच्चे का बार-बार यौन शोषण किया था। न्यूजनाइट कार्यक्रम ने पिछले सप्ताह की अपनी रिपोर्ट में नेता का नाम नहीं लिया था, लेकिन सोशल नेटवर्किंग साइटों पर कथित आरोपी के तौर पर मैकअल्पाइन का नाम सामने आया।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सऊदी अरब में काम करने वाली नर्स कोरोना वायरस की चपेट में आने वाली पहली भारतीय

Advertisement