राष्ट्रपति के संदेश का बेलारूस के लोगों ने निकाला 'यह' अर्थ, ट्रेंड करने लगा #GetNakedAtWork

राष्ट्रपति के संदेश का बेलारूस के लोगों ने निकाला 'यह' अर्थ, ट्रेंड करने लगा #GetNakedAtWork

सोशल मीडिया पर बेलारूस के लोगों की ऐसी फोटो पोस्‍ट की जाने लगीं।

अपने राष्ट्रपति अलेक्जेंडर लुकाशेंको के संदेश को बेलारूस के लोगों ने इस कदर गंभीरता से ले लिया कि निर्वस्त्र होकर काम करने लगे। आमतौर पर अपने राष्ट्रप्रमुख के भाषण को लोग शब्दों के बजाय 'विचार' के तौर पर लेते हैं, लेकिन बेलारूस के लोग इसका अपवाद निकले। 'केजुअल फ्राइडे' के उनके भाषण पर लोगों से इतनी शिद्दत से अमल किया कि राष्ट्रपति लुकाशेंको को अब शायद अपना हर शब्द सोच-समझकर बोलना होगा ।

दरअसल, पांचवीं बेलारूसी पीपुल्स असेंबली के दौरान लुकाशेंको इनोवेशन (नवाचार), आईटी टेक्‍नोलॉजी, प्राइवेटाइजेशन जैसे विषयों पर खुलकर बोले। लेकिन मुल्‍क के कुछ लोगों ने केवल उनके भाषण की इन खास बातों पर गौर किया। बेलारूस की एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक,  लुकाशेंको ने दार्शनिक अंदाज में कहा, 'हमारी पूरी जिंदगी सरल होनी चाहिए; यह जरूरी है कि हम ऊपरी चोले को उतार फेंके और उन्मुक्त होकर काम करें।'

राष्‍ट्रपति के इन शब्‍दों का आशय इन लोगों ने निर्वस्‍त्र होकर काम करने के रूप में ले लिया और #GetNakedAtWork के नाम से अभियान छेड़ दिया। ये लोग अपनी तस्‍वीरें #GetNakedAtWorK से ही टैग कर रहे हैं।
 


 
 

#раздеватьсяиработать #музейбровки #ниднябезбровки #музей

A photo posted by Музей Петруся Броўкі (@museum_brovka) on

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com