NDTV Khabar

ब्राजील की राष्‍ट्रपति डिल्‍मा राउसेफ को सीनेट ने महाभियोग के जरिये हटाया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ब्राजील की राष्‍ट्रपति डिल्‍मा राउसेफ को सीनेट ने महाभियोग के जरिये हटाया

डिल्‍मा रौसेफ का फाइल फोटो

खास बातें

  1. दो-तिहाई बहुमत से उनके खिलाफ प्रस्‍ताव पारित
  2. देश में 13 साल लंबे वामपंथी शासन का अंत
  3. दक्षिणपंथी नेता मिचेल टेमर नए राष्‍ट्रपति बने
ब्राजीलिया (ब्राजील): लैटिन अमेरिका की सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था ब्राजील की राष्‍ट्रपति डिल्‍फा राउसेफ (68) को उनके पद से हटा दिया गया है. आम बजट में अवैध रूप से गड़बड़ी के आरोपों में घिरी डिल्‍मा के खिलाफ सीनेट में महाभियोग प्रस्‍ताव लाया गया था. 81 सीनेटरों ने उनको हटाने के पक्ष में वोट दिया, जबकि डिल्‍फा के पक्ष में 61 वोट पड़े.

जरूरी दो-तिहाई बहुमत से उनके खिलाफ मतदान होने के साथ ही वह तात्‍कालिक रूप से इस पद के लिए अयोग्‍य घोषित हो गईं. उनके हटने के साथ ही ब्राजील में 13 साल लंबे वामपंथी शासन का अंत हो गया.

सीनेट चैंबर के इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में उनके खिलाफ नतीजे का ऐलान होते ही महाभियोग के पक्षधर सीनेटरों ने राष्‍ट्रगान और ब्राजीली ध्‍वज को लहराकर अपनी खुशी का इजहार किया जबकि राउसेफ खेमे के सीनेटरों के चेहरों पर निराशा और खामोशी देखने को मिली.

डिल्‍मा पर आरोप
डिल्‍मा वामपंथी वर्कर्स पार्टी की नेता हैं और कई दशकों के बाद सबसे गहरी आर्थिक मंदी झेल रहे देश की समस्‍याओं को छुपाने के लिए उन पर गैरकानूनी तरीके से स्‍टेट लोन लेकर 2014 के बजट में खामियों को दुरुस्‍त करने का आरोप है. यानी उन पर संघीय बजट के अपने प्रबंधन में वित्तीय कानूनों को तोड़ने का आरोप है.

इस सुनवाई की अध्यक्षता करने वाले मुख्य न्यायाधीश रिकाडरे लेवांडोव्सकी ने कहा, ''सीनेट ने पाया कि ब्राजील के संघीय गणतंत्र की राष्ट्रपति डिल्मा वाना राउसेफ ने वित्तीय कानूनों का उल्लंघन कर अपराध किया है.'' उधर राउसेफ ने उन्हें उनके पद से हटाने के लिए किए गए मतदान को संसदीय तख्तापलट करार दिया और उन्होंने अपनी वर्कर्स पार्टी के साथ वापसी का संकल्प लिया.

उन्होंने कहा, ''उन्होंने राष्ट्रपति के जनादेश में बाधा डालने का फैसला किया है जिन्होंने कोई अपराध नहीं किया है. उन्होंने एक निर्दोष इंसान को दोषी ठहराया है और संसदीय तख्तापलट किया है.''

मिचेल टेमर बने नए राष्‍ट्रपति
डिल्‍मा के हटने के साथ ही उनके उप राष्‍ट्रपति रहे और अब धुर सियासी विरोधी मिचेल टेमर (75) को ब्राजील के नए राष्‍ट्रपति के रूप में शपथ दिलाई गई. टेमर दक्षिणपंथी राजनेता हैं और रोसेफ ने उन पर महाभियोग के जरिये सत्‍ता हथियाने की कोशिशों का आरोप लगाया था. शपथ ग्रहण के बाद अपने पहले विदेशी दौरे पर टेमर, चीन में जी-20 शिखर सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने जाएंगे.  
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... Padamaavat Movie Review: 'पद्मावत' नहीं देखी तो पछताओगे

Advertisement