NDTV Khabar

पाकिस्तान में फिर शुरू हुई ब्रिटिश एयरवेज की उड़ानें, 11 साल पहले इस वजह से बंद हुई थीं एयरलाइन

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में स्थित मैरिएट होटल में सितंबर 2008 में हुए आत्मघाती हमले में 50 से अधिक लोग मारे गये थे. इस घटना के बाद ब्रिटिश एयरवेज ने पाकिस्तान में अपनी सेवाओं को रोक दिया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान में फिर शुरू हुई ब्रिटिश एयरवेज की उड़ानें, 11 साल पहले इस वजह से बंद हुई थीं एयरलाइन

ब्रिटिश एयरवेज ने एक दशक के बाद पाकिस्तान उड़ानें बहाल की

इस्लामाबाद:

ब्रिटिश एयरवेज की एक उड़ान ग्यारह साल के लंबे अंतराल के बाद पाकिस्तान में उतरी. एयरलाइन ने इस्लामाबाद के मैरिएट होटल में सितंबर 2008 में हुए बम विस्फोट के बाद पाकिस्तान में अपना परिचालन बंद कर दिया था.

लंदन के हीथ्रो हवाई अड्डे से 240 यात्रियों को लेकर बोइंग 787 ड्रीमलाइनर विमान इस्लामाबाद अंतरराष्ट्रीय विमान पत्तन पर सुबह सवा नौ बजे उतरा.

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में ईद से ठीक पहले धमाका, पांच की मौत 10 घायल

विमानन मंत्री गुलाम सरवर खान, प्रधानमंत्री के वाणिज्य संबंधी सलाहकार रजाक दाऊद, विदेशों में रहे पाकिस्तानियों से संबंधित विशेष सहायक एवं विमानन प्रभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने हवाई अड्डे पर इस विमान के यात्रियों का स्वागत किया.

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की ईद पर सांप के चमड़े की सैंडल पहनने की तमन्ना नहीं होगी पूरी!



हवाई अड्डे पर एयरलाइन एवं उसके यात्रियों के स्वागत के लिए विशाल बैनर लगाये गये थे. इस अवसर पर सुरक्षा के विशेष प्रबंध किये गये थे तथा हवाई अड्डे के आसपास अतिरक्ति सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया था.

पाकिस्तान में ब्रिटेन के उच्चायुक्त थामस ड्रयू ने एक बयान में कहा, ‘‘ब्रिटेन के विमान वाहक की वापसी. दोनों देश, जो कई तरीकों से काफी करीब हैं, उन्होंने करीब आने के लिए एक कदम और उठाया.''

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि यह निश्चित तौर पर हाल के वर्षों में पाकिस्तान में सुरक्षा स्थिति में हुए भारी सुधार की पहचान है.

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में स्थित मैरिएट होटल में सितंबर 2008 में हुए आत्मघाती हमले में 50 से अधिक लोग मारे गये थे. इस घटना के बाद ब्रिटिश एयरवेज ने पाकिस्तान में अपनी सेवाओं को रोक दिया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement