'शार्ली हेब्दो' ने पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को फिर छापने पर कहा - हार नहीं मानेंगे

मैगजीन के डायरेक्टर लौरेंट रिस सौरीस्यू ने लेटेस्ट एडिशन में कार्टून को फिर से छापने को लेकर लिखा, 'हम कभी झुकेंगे नहीं, हम कभी हार नहीं मानेंगे.'

'शार्ली हेब्दो' ने पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को फिर छापने पर कहा - हार नहीं मानेंगे

साल 2015 में 'शार्ली हेब्दो' के दफ्तर पर हमला हुआ था.

पेरिस:

फ्रेंच व्यंग्य साप्ताहिक 'शार्ली हेब्दो' (Charlie Hebdo) ने मंगलवार को कहा कि वह पैगंबर मोहम्मद (Prophet Mohammed) के बेहद विवादास्पद कार्टून को फिर से प्रकाशित कर रहा है ताकि हमले के कथित अपराधियों के इस सप्ताह मुकदमे की शुरुआत हो सके. मैगजीन के डायरेक्टर लौरेंट रिस सौरीस्यू ने लेटेस्ट एडिशन में कार्टून को फिर से छापने को लेकर लिखा, 'हम कभी झुकेंगे नहीं, हम कभी हार नहीं मानेंगे.'

बता दें कि 7 जनवरी, 2015 को पेरिस स्थित 'शार्ली हेब्दो' के कार्यालय में दो आतंकी भाइयों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाईं थीं. इस आतंकी हमले में 12 लोग मारे गए थे. इनमें से कुछ मशहूर कार्टूनिस्ट थे.

पेरिस हमलों पर फ्रांसिसी मीडिया की दृढ़ प्रतिक्रिया, कहा- इस बार यह युद्ध है

हमलावरों ने एक सुपरमार्केट को भी अपना निशाना बनाया था. इस मामले में पेरिस में बुधवार से ट्रायल शुरू हो रहा है. मैगजीन के हालिया संस्करण में कवर पेज पर दर्जनभर कार्टून छापे गए हैं. कवर पेज के बीच में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून है. जीन काबूट ने इसे बनाया था. उन्हें काबू नाम से भी जाना जाता था. 2015 में हुए हमले में उनकी जान चली गई थी. फ्रंट पेज की हेडलाइन है, 'यह सब, बस उसी के लिए.'


VIDEO: पेरिस हमला : पुलिस ने संदिग्धों को मार गिराया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)