भारत, ब्राज़ील जानते हैं, चीन-रूस उनके लिए खतरा हैं - व्हाइट हाउस से जाने से पहले बोले माइक पॉम्पियो

माइक पॉम्पियो ने व्हाइट हाउस से जाते-जाते एक बार फिर चीन और रूस पर हमला किया है, इसबार उन्होंने BRICS देशों के सदस्यों पर एक ट्वीट कर टिप्पणी की है.

भारत, ब्राज़ील जानते हैं, चीन-रूस उनके लिए खतरा हैं - व्हाइट हाउस से जाने से पहले बोले माइक पॉम्पियो

अपनी भारत यात्रा के दौरान अजीत डोवाल के साथ माइक पॉम्पियो. (फाइल फोटो)

वॉशिंगटन:

व्हाइट हाउस से जाते-जाते अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने मंगलवार को भारत और ब्राज़ील के बहाने रूस और चीन पर निशाना साधा. उन्होंने दावा किया कि भारत और ब्राज़ील दोनों समझते हैं कि चीन और रूस उनके लोगों के लिए खतरा हैं. उन्होंने एक ट्वीट कर BRICS के तहत आने वाले इन चारों देशों पर यह टिप्पणी की. 

अपने ट्वीट में पॉम्पियो ने लिखा, 'BRICS याद है? जेयर बोल्सोनारो और नरेंद्र मोदी का शुक्रिया कि B और I को पता है कि C और R उनके लोगों के लिए खतरा हैं.'

बता दें कि BRICS, दुनिया की पांच बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं- ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और साउथ अफ्रीका के साथ आने से बना सहयोग संगठन है.

पॉम्पियो ने यह टिप्पणी अपने पद से हटने से पहले किए गए अपने ट्वीट्स के दौरान की. दरअसल, बुधवार को जो बाइडेन अमेरिकी राष्ट्रपति के पद पर शपथ ले रहे हैं और व्हाइट हाउस में डेमोक्रेट्स की वापसी हो रही है.

अपने चार साल के कार्यकाल में पॉम्पियो, ट्रंप प्रशासन की बड़ी आवाज के रूप में उभरे जो खुलेआम बीजिंग और मॉस्को के खिलाफ बोलते रहे. उन्होंने उईघर मुस्लिमों और दूसरे अल्पसंख्यकों के खिलाफ चीन के मानवाधिकार उल्लंघनों के खिलाफ बोला. वहीं, चीन और ईरान पर वो हमेशा हमलावर रहे.


पिछले महीने अमेरिका ने रूस और चीन की कुछ ऐसी कंपनियों पर प्रतिबंध लगाए थे, जो, अमेरिका के मुताबिक, दोनों देशों की सेना के साथ काम कर रही थीं. इसके तहत कुल 58 चीनी संगठनों और 45 रूसी संगठनों को ब्लैकलिस्ट किया गया है. इनमें Admiralty Shipyard  और United Aircraft Corporation सहित रूस के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री का ऑफिशियल एयर कैरियर Rossiya Special Flight Squadron शामिल है.

चीन ने अरुणाचल प्रदेश में बसाया गांव, सैटेलाइट तस्वीरों से खुलासा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com