चीन ने कोरोना वायरस से निटपने में भारत की चिकित्सा संबंधी सहायता की सराहना की

कोरोना वायरस के कारण चीन में करीब 1,500 लोगों की मौत हो चुकी है और 60,000 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं.

चीन ने कोरोना वायरस से निटपने में भारत की चिकित्सा संबंधी सहायता की सराहना की

कोरोना वायरस के कारण चीन में करीब 1,500 लोगों की मौत हो चुकी है.

खास बातें

  • चीन ने भारत की मदद की पेशकश की तारीफ की है
  • चीन में कोरोनो वायरस से बड़ी संख्या में लोगों की मौत हो चुकी है
  • भारत चीन को चिकित्सा संबंधी मदद करेगा
बीजिंग:

चीन ने जानलेवा कोराना वायरस से मुकाबले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सहायता और सहयोग की पेशकश की शुक्रवार को सराहना की. चीन का बयान ऐसे समय में आया है जब विदेश मंत्रालय ने उन 33 देशों की सूची जारी की है जिन्होंने इस महामारी से मुकाबले के लिए बीजिंग को चिकित्सा संबंधी सामान की आपूर्ति और सहायता प्रदान की. कोरोना वायरस के कारण चीन में करीब 1,500 लोगों की मौत हो चुकी है और 60,000 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं. चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने शुक्रवार को ऑनलाइन मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा कि चीन अंतरराष्ट्रीय बिरादरी खासकर विकासशील देशों का सहयोग और मित्रतापूर्ण सहायता के लिए स्वागत करता है और उन्हें धन्यवाद देता है. साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘ चीन को इस महामारी से निपटने के लिए अपनी ताकत पर पूरा भरोसा है. खुद के सक्षम होने को लेकर हम पूरी तरह आश्वस्त हैं.''

PM मोदी ने शी चिनफिंग को चिट्ठी लिखकर कोरोना वायरस से निपटने में मदद की पेशकश की थी, अब चीन का आया जवाब...

उन्होंने कहा, ‘‘ हमें राजनयिक चैनलों के माध्यम मिली जानकारी के अनुसार 14 फरवरी, 12 बजे तक कुल 33 देशों और चार अंतरराष्ट्रीय संस्थानों ने चीन को चिकित्सा संबंधी आपूर्ति की है. '' गेंग ने उन देशों का नाम लिया जिन्होंने चीन को सहायता दी. उन्होंने उन देशों का भी जिक्र किया जिन्होंने सहायता की पेशकश की. ब्रीफिंग के बाद गेंग ने कहा कि चीन इस महामारी का मुकाबला करने में उसे भारत द्वारा की गयी मदद की पेशकश की सराहना करता है. नौ फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग को पत्र लिखा था और कोरोना वायरस से निपटने में भारत की सहायता की पेशकश की थी.

देखें Video: चीन से आए भारतीयों में कोरोना वायरस नहीं: स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)