NDTV Khabar

सीपीसी की एकता को बरकरार रखने के लिए शी के दो कार्यकाल की सीमा हटाना आवश्यक: चीन

चीन ने राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए दो कार्यकाल की समयसीमा को समाप्त करने के अपने कदम का बचाव करते हुए आज कहा कि सत्तारूढ कम्युनिस्ट पार्टी के प्रभुत्व को बरकरार रखने के साथ ही नेतृत्व की एकता के लिए यह आवश्यक है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीपीसी की एकता को बरकरार रखने के लिए शी के दो कार्यकाल की सीमा हटाना आवश्यक: चीन

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केन्द्रीय समिति ने संविधान में संशोधन करके राष्ट्रपति तथा उपराष्ट्रपति के दो कार्यकाल की समयसीमा को समाप्त करने का प्रस्ताव पेश किया है.

नई दिल्ली: चीन ने राष्ट्रपति शी चिनफिंग के लिए दो कार्यकाल की समयसीमा को समाप्त करने के अपने कदम का बचाव करते हुए आज कहा कि सत्तारूढ कम्युनिस्ट पार्टी के प्रभुत्व को बरकरार रखने के साथ ही नेतृत्व की एकता के लिए यह आवश्यक है. चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केन्द्रीय समिति ने संविधान में संशोधन करके राष्ट्रपति तथा उपराष्ट्रपति के दो कार्यकाल की समयसीमा को समाप्त करने का प्रस्ताव पेश किया है. 

व्हाइट हाउस के बाहर व्यक्ति ने खुद को गोली मारी, सीक्रेट सर्विस ने दी जानकारी

इस प्रस्ताव पर देश भर में ही नहीं विदेशों में भी प्रतिक्रिया हुई थी और इस आश्य के आकलन किए जाने लगे थे. शी राष्ट्रपति के साथ ही सीपीसी तथा सेना के प्रमुख हैं. हाल ही में उन्होंने राष्ट्रपति पद का दूसरा कार्यकाल शुरू किया है और इस नए प्रस्ताव से वह तीसरा कार्यकाल भी हासिल कर सकते हैं.

सेशेल्स में भारत के सैन्य बेस तैयार करने को लेकर शुरू हुआ विवाद, जानें क्यों अहम है यह...

सीपीसी के ऐसा कदम क्यों उठाया इस पर नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के प्रवक्ता झांग येसूई ने विस्तार से समझाते हुए कहा कि राष्ट्रपति का कार्यकाल निश्चित होता है लेकिन पार्टी के मुखिया तथा सेना प्रमुख के कार्यकाल की कोई सीमा नहीं होती.

टिप्पणियां
अमेरिका ने पुतिन पर शीत युद्ध के समय की संधियों के उल्लंघन का आरोप लगाया

उनहोंने कहा, ‘‘सीपीसी के संविधान के अनुसार ऐसा कोई प्रावधान नहीं है कि केन्द्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के अध्यक्ष अथवा महासचिव का कार्यकाल दो बार से ज्यादा नहीं हो सकता. तो संविधान के लिए राष्ट्रपति के कार्यकाल पर भी यही नियम लागू होना चाहिए. पार्टी की केन्द्रीय समिति की शक्तियों को बरकरार रखने में यह सहायक है.’’ 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement