NDTV Khabar

पाकिस्तान की 1,700 किलोमीटर लंबी रेल परियोजना का पूरा खर्च उठाएगा चीन

806 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान की 1,700 किलोमीटर लंबी रेल परियोजना का पूरा खर्च उठाएगा चीन

चीन अकेले ही कराची-पेशावर रेल लाइन परियोजना का खर्च उठाएगा. (फाइल फोटो)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने कराची-पेशावर रेल लाइन के लिए एशियन डेवलपमेंट बैंक (एडीबी) के वित्तपोषण में हिस्सेदार बनने से इनकार कर दिया है. अब चीन को अकेले ही इस परियोजना का खर्च उठाना पड़ेगा.

'डॉन न्यूज' ने पाकिस्तान के योजना व विकास मंत्री अहसान इकबाल के हवाले से शुक्रवार को बताया, "चीन ने दृढ़ता से तर्क दिया कि दो-स्रोत वाले वित्तपोषण से समस्याएं पैदा हो जाएंगी और परियोजना को नुकसान होगा." 

रिपोर्ट के अनुसार, मंत्री ने कहा कि 8 अरब डॉलर की परियोजना को मूल रूप से मनीला स्थित एडीबी द्वारा आंशिक रूप से वित्तपोषित किए जाने की योजना बनाई गई थी, अब इसका खर्च चीन उठाएगा. 

टिप्पणियां
पाकिस्तान और चीन द्वारा इस संबंध में अगले महीने एक औपचारिक समझौते पर हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है. एडीबी को देश की रसद की रीढ़ की हड्डी मानी जाने वाली 1,700 किलोमीटर कराची-पेशावर लाइन के लिए 3.5 अरब डॉलर प्रदान करना था. यह पाकिस्तान की चार मुख्य रेलवे लाइनों में से एक है. 

(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement