NDTV Khabar

भारत में चल रहा है राफेल पर विवाद, उधर चीन ने बना लिया नया लड़ाकू विमान, आज पहली उड़ान भरी

चीन ने निर्यात करने के लिए स्वदेश में बहु-भूमिका वाला लड़ाकू विमान विकसित किया है. इस विमान ने पहली बार उड़ान भरी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत में चल रहा है राफेल पर विवाद, उधर चीन ने बना लिया नया लड़ाकू विमान, आज पहली उड़ान भरी

चीन ने निर्यात करने के लिए स्वदेश में बहु-भूमिका वाला लड़ाकू विमान विकसित किया है.

खास बातें

  1. चीन ने बनाया नया लड़ाकू विमान
  2. इस विमान ने आज पहली उड़ान भरी
  3. सरकारी मीडिया ने यह खबर दी
बीजिंग: चीन ने निर्यात करने के लिए स्वदेश में बहु-भूमिका वाला लड़ाकू विमान विकसित किया है. इस विमान ने पहली बार उड़ान भरी. सरकारी मीडिया ने यह खबर दी. दैनिक चाइना डेली ने शनिवार को खबर दी है कि सरकारी ‘‘एविएशन इंडस्ट्री कोर ऑफ चाइना’’(एवीआईसी) ने बहु भूमिका वाला एफटीसी-2000जी लड़ाकू विमान विकसित किया है. इस जंगी जहाज ने शुक्रवार को दक्षिण पश्चिम गुइझोऊ प्रांत में पहली बार उड़ान भरी. खबर में बताया गया है कि एफटीसी-2000जी विमान करीब 16 मिनट तक उड़ता रहा. इस मौके पर आयोजित समारोह में एवीआईसी के अधिकारी, कई राष्ट्रों के सैन्य अफसरों, विभिन्न देशों के राजदूतों समेत 1000 से ज्यादा लोग मौजूद रहे. 

अनिल अंबानी को 1.3 लाख करोड़, पर आयुष्मान भारत के लिए 2 हजार करोड़ का झुनझुना, वाह मोदीजी वाह: राहुल गांधी

टिप्पणियां
चीन ने हाल के वर्षों में विभिन्न प्रकार के कई लड़ाकू विमान विकसित किए हैं. इसने पाकिस्तान के साथ संयुक्त रूप से जेएफ-थंडर विमान का भी उत्पादन किया है. बहरहाल, चीन विमानों के लिए अभी इंजन विकसित नहीं कर पाया है और वह अधिकतर इंजनों का रूस से आयात करता है. एवीआईसी के मुताबिक, विमान का मुख्य काम हवा से जमीन पर स्थित लक्ष्यों को निशाना बनाना है. कंपनी के मुताबिक, यह विमान एक बार उड़ान भरने पर तीन घंटे तक हवा में रह सकता है और तीन टन तक मिसाइलें, रॉकेट या बम ले जा सकता है. 

VIDEO: मिशन 2019 : राफेल पर विपक्ष में ही पड़ी फूट
यह हवा से जमीन पर मार करने वाली हथियार प्रणाली से लैस है.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement