NDTV Khabar

चीनी नौसेना के पोत ने कोलंबो में लंगर डाला, टास्क कमांडर ने कहा- सौहार्द मिशन पर निकला है

श्रीलंका के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, 'पीस आर्क' नाम का यह जहाज रविवार को बंदरगाह पर पहुंचा. यह जहाज पहली बार श्रीलंका आया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीनी नौसेना के पोत ने कोलंबो में लंगर डाला, टास्क कमांडर ने कहा- सौहार्द मिशन पर निकला है

फाइल फोटो

खास बातें

  1. चीनी नौसेना का चिकित्सा पोत कोलंबो पहुंचा
  2. 4 दिन रहकर करेगा लोगों का इलाज
  3. टास्क कमांडर ने कहा- सौहार्द मिशन पर निकले हैं
नई दिल्ली: चीन की नौसेना के एक चिकित्सा पोत ने श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के पास बंदरगाह पर लंगर डाला है. पोत चार दिन तक यहां रहेगा. श्रीलंका के अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी.  समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, 'पीस आर्क' नाम का यह जहाज रविवार को बंदरगाह पर पहुंचा. यह जहाज पहली बार श्रीलंका आया है. टास्क कमांडर मेजर जनरल गुआन बोलिन ने कहा कि पोत लोगों के लिए खुला रहेगा और उन्हें चिकित्सीय सेवा देगा. यह छठी बार है जब 'पीस आर्क' अपने 'सौहार्द मिशन' पर निकला है. 2017 में इसके मिशन में श्रीलंका इसका पहला ठहराव है. यह पोत जिबूती बंदरगाह, सिएरालियोन के फ्रीटाउन बंदरगाह, गैबोन के ओवेंदो बंदरगाह और कांगो के पोएंटे नोएर बंदरगाह भी जाएगा.

यह भी पढ़ें :  चीन ने किया दावा, डोकलाम सड़क निर्माण के बारे में भारत को पहले ही अवगत कराया

आपको बता दें कि चीन काफी दिनों से श्रीलंका को अपने पाले में लाने की कोशिश कर रहा है. चीन की यह कोशिश उसकी उसी रणनीति का हिस्सा है जिसमें वह भारत के पड़ोसी देशों को अपने साथ मिलाकर उसे घेर सके. इस चाल के तहत इन देशों में भारी मात्रा में निवेश के साथ ही उन्हें आर्थिक मदद भी पहुंचा रहा है.

Video : चीन के आक्रामक तेवर


टिप्पणियां
श्रीलंका के हम्बनटोटा पोर्ट को चीन को 99 साल के लिए पट्टे पर दिया है. हालांकि श्रीलंका ने साफ कह दिया है कि इसका इस्तेमाल सैनिक गतिविधियों के लिए कभी नहीं किया जाने दिया जाएगा. भारत ने भी अपनी चिंता को श्रीलंका के सामने कई बार उठाया था.

इनपुट : आईएनएस


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement