NDTV Khabar

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने हांगकांग में अनुचित चुनौतियों के खिलाफ किया आगाह

हांगकांग की नई नेता कैरी लाम के शपथ समारोह के बाद शी ने एक टेलीविजन संबोधन में यह बात कही. इसी दौरान बीजिंग समर्थकों एवं विरोधियों के बीच झड़पें भी हुई'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने हांगकांग में अनुचित चुनौतियों के खिलाफ किया आगाह

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग.

खास बातें

  1. हांगकांग लौटाए जाने की 20वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक समारोह
  2. हांगकांग पहले कभी इतना स्वतंत्र नहीं था जितना आज है : शी
  3. शी ने एक टेलीविजन संबोधन में यह बात कही.
हांगकांग: ब्रिटेन द्वारा चीन को हांगकांग लौटाए जाने की 20वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक समारोह में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा कि हांगकांग पहले कभी इतना स्वतंत्र नहीं था जितना आज है. साथ ही उन्होंने बीजिंग शासन के लिए 'अनुचित चुनौतियां' खड़ी किए जाने के खिलाफ आगाह भी किया. हांगकांग की नई नेता कैरी लाम के शपथ समारोह के बाद शी ने एक टेलीविजन संबोधन में यह बात कही. इसी दौरान बीजिंग समर्थकों एवं विरोधियों के बीच झड़पें भी हुई'

चीन समर्थक समिति द्वारा लाम का चयन किया गया है. अभी से इस निर्णय की आलोचना की जा रही है और कई लोग इसे शहर में चीन की एक कठपुतली की तैनाती बता रहे हैं. वहीं कुछ लोग लगभग 80 लाख लोगों की स्वतंत्रता पर बीजिंग की कठोर होती पकड़ से नाराज हैं.

शी ने आगाह करते हुए कहा कि चीन में कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार के प्राधिकार को किसी भी तरह का खतरा 'सभी हदों के पार' माना जाएगा और वह 'पूरी तरह अनुचित' होगा.

टिप्पणियां
चीनी राष्ट्रपति की यह प्रतिक्रिया युवा कार्यकर्ताओं के आत्मनिर्णय या हांगकांग के लिए पूर्ण स्वतंत्रता की मांग करने के बाद आई है. युवा कार्यकर्ताओं की मांग को ले कर चीन की त्यौरियां तनी हुई हैं.

उन्होंने कहा कि हांगकांग के पास 'अधिक इतने व्यापक लोकतांत्रिक अधिकार हैं जितने पहले कभी उसके पास नहीं थे.' लाम ने शी से हाथ मिलाने से पहले, देश के हारबरफ्रंट सम्मेलन केंद्र में चीन के राष्ट्रीय ध्वज के नीचे पद की शपथ ली. ब्रिटेन ने एशिया के विभागीय केंद्र का नियंत्रण वर्ष 1997 में चीन के हाथ में दे दिया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement