Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

चीन में कम्युनिस्ट पार्टी का सम्मेलन शुरू, शी जिनपिंग के राष्ट्रपति बने रहने पर होगा फैसला

इस सम्मेलन में तय होगा कि देश पर किसका शासन होगा और अगले सत्र के लिए उसकी क्या दिशा रहेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीन में कम्युनिस्ट पार्टी का सम्मेलन शुरू, शी जिनपिंग के राष्ट्रपति बने रहने पर होगा फैसला

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ( फाइल फोटो)

चीन  का सबसे बड़ा राजनीतिक आयोजन-कम्युनिस्ट पार्टी कांग्रेस बुधवार को भारी सुरक्षा के बीच शुरू हो गया है. इस सम्मेलन में तय होगा कि देश पर किसका शासन होगा और अगले सत्र के लिए उसकी क्या दिशा रहेगी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, राष्ट्रपति शी जिनपिंग राजधानी में दो हजार से ज्यादा प्रतिनिधियों को संबोधित किया. खबर के मुताबिक, हर पांच साल में एक बार होने वाले इस सम्मेलन में बाहरी लोगों का आना प्रतिबंधित है. इसके अगले सप्ताह समाप्त होने की उम्मीद है. शी 2012 में कम्यूनिस्ट पार्टी के नेता बने थे और आगे भी उनके पार्टी प्रमुख बने रहने की उम्मीद है. शी ने अपने भाषण की शुरूआत उनके कार्यकाल के दौरान चीन द्वारा अर्जित उपलब्धियों से की और कहा कि चीनी विशेषताओं के साथ समाजवाद ने एक नए युग में प्रवेश किया है.  शी ने कांग्रेस के 19वें सत्र की शुरुआत के दौरान कहा कि चीन का समाजवाद लोकतंत्र, लोगों के मूलभूत हितों की रक्षा के लिए सबसे व्यापक, सबसे वास्तविक और सबसे प्रभावी लोकतंत्र है. 

डोकलाम का बदला? चीन की वजह से लटकी भारत की हाई स्पीड ट्रेन परियोजना 


टिप्पणियां

उन्होंने पार्टी के सदस्यों से लोगों के साथ हमेशा अपनी नियति को साझा करने और लोगों के दिमाग में बेहतर जिंदगी की सोच स्थापित करने का आह्वान किया. शी पार्टी के अंदर फैले बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने में मिली सफलता के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि करीब दस लाख से ज्यादा अधिकारियों को दंडित किया गया है.  सम्मेलन के दौरान उच्च सुरक्षा चेतावनी जारी की गई है. परिवहन केंद्रों पर अतिरिक्त चेकिंग के कारण रेलवे स्टेशनों पर लंबी कतारें देखी गई हैं. 
वीडियो : डोकलाम पर नहीं बदला चीन का रुख
मीडिया में आई खबरों के मुताबिक कांग्रेस के कारण व्यापार भी प्रभावित हुआ है. जैसे की कुछ रेस्तरां, जिम, नाइटक्लब और बार को सुरक्षा कारणों के तहत बंद करा दिया गया है और एयरबीएनबी जैसी आवास-बुकिंग वेबसाइटों ने भी सेंट्रल बीजिंग में आरक्षण रद्द कर दिए हैं. 

इनपुट : आईएनएस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग अध्यक्ष का दिल्ली पुलिस पर आरोप, कहा- दंगाइयों को दी जा रही खुली छूट

Advertisement