NDTV Khabar

इस टेस्ट की मदद से सदस्यों की वफादारी जांच रही है कम्युनिस्ट पार्टी

पार्टी इस टेस्ट की मदद से यह तय करने में लगी है कि उनके पास पार्टी की सदस्यता के लिए जरूरी योग्यताएं हैं या नहीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस टेस्ट की मदद से सदस्यों की वफादारी जांच रही है कम्युनिस्ट पार्टी

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: सत्तारूढ़ चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) अपने सदस्यों की वफादारी की जांच करने के लिए वर्चुअल रियलिटी (वीआर) टेस्ट का इस्तेमाल कर रही है. पार्टी इस टेस्ट की मदद से यह तय करने में लगी है कि उनके पास पार्टी की सदस्यता के लिए जरूरी योग्यताएं हैं या नहीं. सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ने समाचार वेबसाइट ‘बिन्झोऊडब्ल्यू डाट कॉम’की एक खबर के हवाले से बताया कि पूर्वी चीन में शान्दोंग प्रांत के बिन्झोऊ शहर के किंगयांग कस्बे में सीपीसी के सदस्य वी आर गियर का इस्तेमाल करते हुए वफादारी की जांच के लिए पेश हुए. जांच पार्टी के सदस्यों की सीपीसी के प्रति वफादारी, लोगों एवं पार्टी के लिए योगदान देने की तत्परता और आदर्श होने की योग्यताओं से संबंधित है.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: एससीओ के महासचिव आज से भारत यात्रा पर, सुषमा-प्रभु से करेंगे मुलाकात

किंगयांग में पार्टी के सदस्यों के लिए वीआर हेडसेट पहनना, रिमोट कंट्रोल हाथ में रखना और 30 सवालों का जवाब देने के लिए एक वर्चुअल रूम में प्रवेश करना जरूरी था. जांच में पार्टी के सिद्धांत, सदस्यों की रोजाना की जिंदगी और पार्टी की अग्रणी भूमिका को लेकर उनकी समझ से जुड़े सवाल शामिल थे. बीजिंग स्थित सीपीसी केंद्रीय समिति के पार्टी स्कूल के प्रोफेसर सी झिकियांग ने कहा कि जांच का इस्तेमाल सीपीसी सदस्यों की राजनीतिक गुणवत्ता एवं लोगों की सेवा करने की उनकी क्षमताएं बढ़ाने आदि के तरीके का पता लगाने के लिए होना चाहिए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement