Coronavirus : बेहतरीन मेडिकल सुविधा और अस्पताल होने के बावजूद भी इटली में क्यों हो रही हैं सबसे ज्यादा मौतें

कोरोना वायरस के कारण सबसे ज्यादा मौतें इटली में हुई है. ये संख्या 6800 से ज्यादा है. इसके अलावा इटली में अब तक कोरोना वायरस से 69 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं. गौरतलब है कि कोरोना वायरस की शुरूआत चीन के वुहान से हुआ था.

Coronavirus :  बेहतरीन मेडिकल सुविधा और अस्पताल होने के बावजूद भी इटली में क्यों हो रही हैं सबसे ज्यादा मौतें

Coronavirus से इटली में अब तक सबसे ज्यादा मौते हुई हैं.

नई दिल्ली :

कोरोना वायरस के कारण सबसे ज्यादा मौतें इटली में हुई है. ये संख्या 6800 से ज्यादा है. इसके अलावा इटली में अब तक कोरोना वायरस से 69 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं. गौरतलब है कि कोरोना वायरस की शुरूआत चीन के वुहान से हुआ था. चीन में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 81 हजार से भी ज्यादा है. वहीं चीन में इस वायरस से अभी तक 3200 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. न्यूज वेबसाइट aljazeera.com में एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन में कोरोना वायरस से संक्रमित मामले पहले से कम आ रहे हैं या यूं कहे कि चीन ने इस पर एक हद तक कंट्रोल कर लिया है. मिलान के साको हॉस्पिटल की डॉक्टर मास्सिमो गली aljazeera.com से बातचीत में कहा कि इटली के मुख्य शहरों में संक्रमित लोगों का आंकड़ा ही हमारे सामने है, जो बेहद भयानक है, लेकिन वहीं सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात यह है कि इन मुख्यों शहरों के आसपास के क्षेत्रों का आंकड़ा तो हमारे पास नही है. जहां देश की कुल आबादी का 68 प्रतिशत हिस्सा रहता है.

गली ने बताया कि जब इटली में इस संक्रमण ने भयानक रूप ले लिया तब जाकर प्रमुख शहरों में लैब बनाए गए और इसकी टेस्ट शुरू किए गए. लेकिन यह बात काफी डराने वाली है कि जिन छोटे जगहों पर स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं दी गई हैं, उन लोगों का क्या हाल होगा. बता दें कि इटली ने शुरू में कोरोनावायरस  को काफी हल्के में लिया. यहां एक बात यह भी ध्यान रखने वाली है कि इटली की शानदार मेडिकल सुविधाओं के लिए भी जाना जाता है.इटली में कोरोना का पहला मामला 31 जनवरी को रोम में सामने आया था. लेकिन देश में लॉकडाउन 10 मार्च को लागू किया गया.  इस लॉकडाउन के बाद भी इटली के लोगों ने इसे गंभीरता से नहीं लिया और इसके कई शहरों में लोग आराम से शॉपिंग करते रहे.  रेस्टोरेंट्स में परिवार के साथ खाना खाते रहे, बार और क्लब, लेटनाइट पार्टी करते रहे, मार्केट में घूमते रहे. और इसी का नतीजा है कि वहां पर इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती चली गई. आंकड़े बताते हैं कि दूसरे देश के मुकाबले इटली में एक दिन में अब तक कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं. वहीं सबसे बुरी स्थिति इटली के उत्तरी क्षेत्र लोम्बार्डी की है. पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की की संख्या तीन लाख 50 हजार से अधिक हो गई है. वहीं अभी तक  15,873 मौतें हुई हैं. इटली में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों के पीछे एक यह भी वजह बताई जा रही है कि यहां पर बुजुर्गों की संख्या ज्यादा है. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ (आईएसएस) की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, इटली में, मरने वालों में से 85.6 प्रतिशत लोग 70 से अधिक उम्र वाले थे. हालांकि इटली में कम उम्र के लोगों को भी संक्रमण हुआ है. बता दें कि जापान के बाद इटली दूसरा ऐसा देश है जहां 65 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों की आबादी 23 प्रतिशत है. 

LIVE COVID-19 UPDATE (INDIA)

LIVE COVID-19 UPDATE (WORLD)



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)