फिजी में चक्रवात केनी का कहर, 18000 से ज्यादा लोग राहत केंद्र में

केनी की तेज हवाओं की वजह से घर व पेड़ गिर गए है और द्वीप के दक्षिण तरफ कई नौका पलट गईं हैं.

फिजी में चक्रवात केनी का कहर, 18000 से ज्यादा लोग राहत केंद्र में

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

फिजी:

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कार्यालय (एनडीएमओ) ने बुधवार को कहा कि फिजी में एक दिन पहले आए उष्णकटिबंधीय चक्रवात से भारी बारिश व विनाशकारी हवाओं से 18,000 से ज्यादा लोग अभी भी राहत केंद्रों में हैं. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, एनडीएमओ ने कहा कि चक्रवात की वजह से ज्यादातर खाली कराए गए लोग अपनी सुरक्षा सुनिश्चित होने पर ही घर लौटेंगे. एनडीएमओ के निदेशक अनारे लेवेनिकेला ने कहा कि फिजी पर केनी के प्रभाव का अभी पता नहीं चला है और उनका ध्यान अभी प्रभावित लोगों को आपात सुविधाएं मुहैया कराने पर है.

यह भी पढ़ें : CM योगी आदित्यनाथ ने चक्रवात प्रभावित राज्यों के लिये पांच करोड़ रूपये का योगदान किया

फिजी का कदावु द्वीप इससे सीधे तौर पर प्रभावित है और केनी ने घरों व फसलों को तबाह कर दिया है. केनी की तेज हवाओं की वजह से घर व पेड़ गिर गए है और द्वीप के दक्षिण तरफ कई नौका पलट गईं हैं.

केनी की वजह से पश्चिमी फिजी के एक शहर बा में एक व्यक्ति की मौत हो गई. केनी के कारण भारी बारिश व बाढ़ की वजह से मौजूदा समय में पूरे फिजी में 90 सड़कें बंद हैं, जबकि कदावु द्वीप व पश्चिमी भाग में सभी स्कूलों को राहत केंद्रों के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है. ये सभी स्कूल बंद हैं. ईस्टर के लंबे सप्ताहांत के बाद उष्णकटिबंधीय जोसिई चक्रवात से छह लोगों की मौत होने के एक हफ्ते बाद केनी दूसरा उष्णकटिबंधीय चक्रवात है, जिसने फिजी को तबाह कर के रख दिया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

'वरदा' ने मचाई तबाही : हवा में ऐसे उड़ गई कार​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)