NDTV Khabar

इराक-ईरान भूंकप में मरने वालों की संख्या 430 के पार

भूकंप में मौत- घायलों की संख्या अभी और बढ़ सकती है.

129 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इराक-ईरान भूंकप में मरने वालों की संख्या 430 के पार

भूकंप से भारी तबाही की खबरें हैं ( फाइल फोटो)

खास बातें

  1. घायलों के लिए जवानों ने बनाया अलग अस्पताल
  2. बिजली और पानी की आपूर्ति भी हुई प्रभावित
  3. सीमावर्ती इलाके खास तौर पर हुए प्रभावित
नई दिल्ली: ईरान-इराक सीमा पर आए भकूंप के बाद मंगलवार को भी राहत कार्य जारी हैं.मलबा हटाने का काम बड़े स्तर पर किया जा रहा है. अभी तक भूकंप में मरने वाले लोगों की संख्या 430 के पार पहुंच चुकी है. भूकंप का सबसे ज्यादा नुकसान उस इलाके को हुआ है जिसे 1980 में युद्ध के बाद फिर से बनाया गया था..ईरान के स्थानीय समयानुसार रात 9:48 मिनट पर आए 7.3 की तीव्रता का भूकंप आया. ईरान के संकट प्रबंधन मुख्यालय के प्रवक्ता बेहनम सईदी ने सरकारी टीवी को बताया कि भूकंप से देश में 430 लोग मारे गए हैं और 7,156 अन्य लोग घायल हुए.

संयुक्त राष्ट्र ने कहा, परमाणु समझौते का अनुपालन कर रहा है ईरान

अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण के अनुसार भूकंप का केंद्र इराक के पूर्वी शहर हलबजा के 31 किलोमीटर बाहर और 23.2 किलोमीटर की गहराई पर था. भूकंप के कारण दुबई की गगनचुंबी इमारतें भी हिल गईं और यह भूमध्यसागरीय तट पर 1,060 किलोमीटर दूर तक महसूस किया गया. इराक के गृह मंत्री के अनुसार भूकंप से सात लोगों की मौत हुई है और 535 लोग घायल हैं. सभी देश के उत्तरी, अर्द्ध स्वायत्त कुर्द क्षेत्र के हैं. भूकंप के झटके इतने तेज थे कि प्रभावित इलाके में कई इमारत तो कुछ सेकेंड में ही गिर गए. कई इलाकों का एक दूसरे संपर्क भी टूट गया है. भूकंप की वजह से बिजली और पानी की आपूर्ति भी प्रभावित हुई है. बचाव कार्य में तेहरान के लड़ाके भी अन्य बचाव कर्मियों की मदद कर रहे हैं. मलबे की जांच के लिए श्वान दस्ते का भी इस्तेमाल किया जा रहा है.
वीडियो : कहां हैं डीटीसी की बसें
भूकंप की वजह से सरपोल-ए-जहाब का अस्पताल बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया. सेना ने पीड़ितों के इलाज के लिए खुले में एक अस्पताल स्थापित किया है. कई गंभीर रूप से घायल लोगों को तेहरान सहित अन्य शहरों में भर्ती कराया गया है. खबरों के अनुसार भूकंप से सेना की एक चौकी और सीमांत शहर की इमारतें भी क्षतिग्रस्त हुई है और बड़ी संख्या में जवानों के मारे जाने की सूचना है ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनी ने सभी सरकारी और सैन्य बलों को तत्काल प्रभावितों की मदद के लिए रवाना कर दिया है.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement