श्रीलंका में महामारी के स्तर पर डेंगू, 120 की मौत और 87,000 मामले आए सामने

कोलंबो से 17,900 से अधिक मामले सामने आए हैं, गम्पाहा से 13,700 से अधिक मामले और कैंडी से 7,600 से अधिक डेंगू के मामले सामने आए हैं.

श्रीलंका में महामारी के स्तर पर डेंगू, 120 की मौत और 87,000 मामले आए सामने

श्रीलंका में डेंगू का प्रकोप महामारी के स्तर तक पहुंचा

कोलंबो:

श्रीलंका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा है कि देश में 120 लोगों की जान लेने के साथ-साथ डेंगू महामारी के स्तर पर पहुंच गया है. अधिकारियों ने कहा कि 10 से अधिक जिले बीमारी का तेजी से प्रसार होने से प्रभावित हैं. गवर्नमेंट मेडिकल ऑफिसर्स एसोसिएशन (जीएमओए) के सचिव हरिता अलुथगे ने शनिवार को डेली मिरर को बताया कि जहां कोलंबो, गम्पहा और कैंडी 87,000 से अधिक सामने आए मामलों में 50 प्रतिशत के साथ सबसे अधिक प्रभावित जिले हैं, वहीं पहली बार जाफना से डेंगू के प्रकोप का मामला सामने आया है.

सिर्फ जाफना में ही 7,000 डेंगू के मामले सामने आए हैं.

कैसे पहचाने डेंगू को? क्‍या हैं बचाव के उपाएं

अलुथगे ने कहा कि पिछले साल, जीएमओए ने डेंगू के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए एक प्रस्ताव रखा था जिसे पूर्व स्वास्थ्य मंत्री द्वारा अस्थायी रूप से लागू किया गया था. हालांकि, इसे कुछ महीनों बाद उपेक्षित कर दिया गया.

जीएमओए अब प्रस्तावों के पूर्ण कार्यान्वयन के लिए आह्वान करता है और उम्मीद करता है कि प्रेसिडेंशियल टास्क फोर्स सहित सभी हितधारकों के साथ इस पर चर्चा की जाएगी जिन्हें बीमारी के प्रसार से निपटने के लिए पूर्व सरकार द्वारा नियुक्त किया गया था.

जिन लोगों के खून में है इस चीज़ की कमी, वो ज्यादा हो रहे हैं Dengue के शिकार

नेशनल डेंगू कंट्रोल यूनिट निदेशक अरुणा जयशेखर ने डेली मिरर को बताया कि लगातार बारिश के कारण इस साल अधिक संख्या में लोग इस बीमारी से प्रभावित हुए हैं.

उन्होंने कहा कि अगले सप्ताह ज्यादा जोखिम वाले क्षेत्रों में एक नया राष्ट्रीय डेंगू कार्यक्रम शुरू किया जाएगा.

एपिडेमियोलॉजी यूनिट के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, कोलंबो से 17,900 से अधिक मामले सामने आए हैं, गम्पाहा से 13,700 से अधिक मामले और कैंडी से 7,600 से अधिक डेंगू के मामले सामने आए हैं.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com