शख्‍स को लगातार आ रही थी खांसी, डॉक्‍टर ने चेक किया तो नाक और गले में निकली दो-दो जोंक

अस्पताल में इलाज के दौरान शख्स का टेस्ट करने के बाद डॉक्टरों को पता चला कि उसकी नाक की दाईं नासिका (Right Nostril) में एक लीच यानी कि जोंक रह रही है.

शख्‍स को लगातार आ रही थी खांसी, डॉक्‍टर ने चेक किया तो नाक और गले में निकली दो-दो जोंक

2 महीने से शख्स की नाक में रह रही थी जोंक. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

शंघाई:

आपने दुनियाभर में होने वाली बहुत सी अजीबोगरीब बीमारियों के बारे में सुना होगा लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि किसी व्यक्ति के अंदर लीच रह ही है? अगर नहीं सुना तो हम आपको बता दें कि ऐसा एक मामला सामने आया है. दरअसल, चीन का एक शख्‍स काफी दिनों से लगातार हो रही खांसी के कारण परेशान था और इस वजह से वह डॉक्टर के पास गया. यहां डॉक्टरों ने पहले शख्स का सीटी स्कैन (CT Scan) किया लेकिन उन्हें उसमें कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद उन्होंने एंडोस्कोपी की एक तकनीक ब्रोकोस्कोपी टेस्ट किया. इस टेस्ट में डॉक्टरों को पता चला कि शख्स की नाक में 2 लीच यानी कि जोंक रह रही हैं. 

यह भी पढ़ें: फ्लाइट में अचानक बिगड़ी बुजुर्ग की तबियत, डॉक्टर ने एक लीटर यूरिन चूस कर बचाई जान

इस घटना के बारे में शख्स को उस वक्त पता चला जब उसे लगातार हो रही खांसी में खून आने लगा और उसने चीन के फूजिआन के लॉन्गयान में स्थित वूपिंग काउंटी अस्पताल (Wuping County Hospital) में जाने का फैसला किया. यहां शख्स ने अस्पताल के श्वसन विभाग (Respiratory Department) में खुद को दिखाया. अस्पताल में इलाज के दौरान शख्स का टेस्ट करने के बाद डॉक्टरों को पता चला कि उसकी नाक की दाईं नासिका (Right Nostril) में एक जोंक रह रही है और जबकि एक अन्‍य जोंक 3 सेंटीमीटर अंदर ग्लोटिस में रह रही है. यह वोकल कॉर्ड्स के बीच का हिस्सा होता है. हालांकि, डॉक्टरों ने 2 महीनों से रह रहीं इन दोनों जोंक को व्यक्ति के शरीर से बाहर निकाल दिया है. 

इन जोंकों को बाहर निकालने के लिए पहले मरीज को बेहोशी की दवा (Anaesthesia) दी गई, जिसके बाद चिमटी (Tweezers) की मदद से इन्हें बाहर निकाला गया. डॉक्टरों का मानना है कि जंगल में काम करने वाले इस शख्स ने पहाड़ों से पानी पीते वक्त बिना एहसास हुए इन जोकों को निगल लिया था. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com