NDTV Khabar

डोकलाम विवाद : चीन का दावा - भारत ने हमारी सीमा में घुसने की बात 'स्वीकार' की

चीनी विदेश मंत्री ने कहा कि सीमा पर हाल में पैदा हुए संकट के लिए भारत जिम्मेदार है.

424 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोकलाम विवाद : चीन का दावा - भारत ने हमारी सीमा में घुसने की बात 'स्वीकार' की

डोकलाम में भारत और चीन के बीच के पिछले कई हफ्तों से गतिरोध बना हुआ है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सही और गलत क्या है यह पूरी तरह साफ हो चुका है : चीनी विदेश मंत्री
  2. 'सीमा पर पैदा हुए संकट के लिए भारत जिम्मेदार'
  3. 'भारत ईमानदारी पूर्वक अपने सैनिकों को वापस बुलाए'
बीजिंग: चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने दावा किया है कि भारत ने चीन की सीमा में घुसने की बात 'स्वीकार' की है. चीनी विदेश मंत्री ने मंगलवार को कहा कि सीमा पर हाल में पैदा हुए संकट के लिए भारत जिम्मेदार है. वांग ने एक बयान में कहा, 'इसका समाधान बेहद आसान है. भारत को ईमानदारी पूर्वक अपने सैनिकों को वापस बुला लेना चाहिए.'

डोकलाम विवाद पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वांग ने कहा, 'सही और गलत क्या है, यह पूरी तरह स्पष्ट हो चुका है और यहां तक कि वरिष्ठ भारतीय अधिकारियों ने खुले तौर पर कहा है कि चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा में प्रवेश नहीं किया. इस तरह भारत ने स्वीकार कर लिया है कि वह चीनी क्षेत्र में घुसा.'
यह भी पढ़ें
डोकलाम तो बहाना है, क्या इन 6 वजहों से घबरा रहा है चीन

उन्होंने यह टिप्पणी ब्रिक्स देशों के सुरक्षा सलाहकारों के सम्मेलन से दो दिन पहले की है, जिसमें भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल हिस्सा लेने वाले हैं. यह अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है कि दो-दिवसीय ब्रिक्स एनएसए बैठक से इतर डोभाल की चीन के शीर्ष राजनयिक यांग जिची के साथ द्विपक्षीय वार्ता होगी या नहीं.

चीन ने सोमवार को कहा था कि अतीत में मेजबान देश सम्मेलन से इतर देशों के बीच द्विपक्षीय बैठकों की व्यवस्था करता रहा है. बीजिंग ने सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में भारतीय सैनिकों की वापसी तक किसी भी तरह की सीमा वार्ता से इनकार किया है.
यह भी पढ़ें
डोभाल की यात्रा से पहले चीन की खुली धमकी - हम अपने रुख में कोई नरमी नहीं बरतेंगे

सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में भारत तथा चीन के बीच गतिरोध दूसरे महीने में प्रवेश कर गया और दोनों देशों के बीच विवादित मुद्दों की सूची में यह मुद्दा भी जुड़ गया. डोकलाम में भारत, भूटान तथा चीन तीनों देशों की सीमाएं मिलती हैं और रणनीतिक दृष्टिकोण से यह तीनों देशों के लिए अहम है. यह क्षेत्र भूटान तथा चीन के बीच विवादित है. विवाद तब शुरू हुआ, जब चीन ने डोकलाम में एक सड़क निर्माण कार्य शुरू किया. भारतीय सैनिकों ने सड़क निर्माण कार्य को रोक दिया, जिसके बाद दोनों देशों के सैनिकों के बीच ठन गई.

VIDEO : चीन को सुषमा स्वराज की खरी-खरी भारत ने चीन पर भारत-भूटान-चीन तिराहे (जहां तीनों देशों की सीमाएं मिलती हैं) की यथास्थिति को बदलने का आरोप लगाया है और सैनिकों की एकतरफा वापसी से इनकार कर दिया है. भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पिछले सप्ताह कहा था कि चीन द्वारा भूटान से होते हुए सड़क का निर्माण भारत की सुरक्षा के लिए चुनौती है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement