कोरोना से लड़ने के लिए कीटाणुनाशक इंजेक्शन लगाने की सलाह से मुकरे ट्रंप, बोले- मैं तो कर रहा था मजाक

पूरी दुनिया में कहर बरपा रहे कोरोनावायरस की वजह से अमेरिका में मरने वालों की संख्या 50 हजार के पार हो गई है.

कोरोना से लड़ने के लिए कीटाणुनाशक इंजेक्शन लगाने की सलाह से मुकरे ट्रंप, बोले- मैं तो कर रहा था मजाक

डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोना के इलाज के लिए कीटाणुनाशक इंजेक्शन वाले बयान को बताया मजाक

कोरोनावायरस (Coronavirus) संकट के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump)  कीटाणुनाशक (Disinfectants) इंजेक्शन लगाने वाले बयान से पलट गए हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि मैं तो मज़ाक कर रहा था. ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, "मैंने आप जैसे पत्रकारों से मजाक में सिर्फ एक सवाल पूछा था. यह देखने के लिए की क्या होता है." कीटाणुनाशक इंजेक्‍शन से कोरोना के इलाज की सलाह को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति का काफी मजाक बना था. 

ट्रंप ने बृहस्पतिवार को सरकारी वैज्ञानिकों के साथ संवाददाता सम्मेलन में रोगाणुनाशक को लेकर यह बात कही थी. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विषय पर गृह सुरक्षा मंत्रालय के अवर मंत्री बिल ब्रायन ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में संवाददाताओं को बताया था, “कोरोना वायरस धूप एवं नमी के संपर्क में आने से बहुत तेजी से खत्म होता है. सीधी धूप पड़ने से यह वायरस सबसे जल्दी मरता है. आइसोप्रोपाइल अल्कोहल वायरस का 30 सेकंड में खात्मा कर सकता है.” ब्रायन के संबोधन के बाद, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, 'उन्हें आश्चर्य है कि क्या शरीर को "बहुत शक्तिशाली प्रकाश" से साफ किया जा सकता है. 

ट्रंप ने आगे कहा, "तब तो वायरस के खात्‍में के लिए संक्रमित व्यक्ति में रोगाणुनाशकों को इंजेक्ट किया जा सकता है. वायरस एक मिनट में बाहर निकल सकता है. यह ऐसा कुछ है जो इंजेक्शन लगाकर किया जा सकता है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अमेरिका में कोरोना से 50,000 से ज्यादा मौतें
पूरी दुनिया में कहर बरपा रहे कोरोनावायरस की वजह से अमेरिका में मरने वालों की संख्या 50 हजार के पार हो गई है. जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार अमेरिका में कोरोना वायरस महामारी के कारण मृतकों की संख्या 50,031 हो गई. विश्वविद्यालय द्वारा सरकारी आंकड़े के आधार पर तैयार सूचना के अनुसार, अमेरिका में शुक्रवार सुबह तक पिछले 24 घंटे में 3,176 लोगों की जान कोरोना वायरस के चलते चली गयी. यह पिछले साल चीन के वुहान में इस महामारी के सिर उठाने के बाद से दुनिया में कहीं भी सबसे अधिक मरने वालों के आंकड़ों में एक है.

वीडियो: अमेरिकी राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत को दिया धन्यवाद