खशोगी की हत्या के लिए डोनाल्ड ट्रंप ने इसे ठहराया जिम्मेदार, कहा- यह जगह अब खराब हो चुकी है

अमेरिकी खुफिया विभाग इस निष्कर्ष पर पहुंचा है कि पत्रकार जमाल खशोगी (Khashoggi case)  की हत्या का आदेश सऊदी अरब के वली अहद ने ही दिया.

खशोगी की हत्या के लिए डोनाल्ड ट्रंप ने इसे ठहराया जिम्मेदार, कहा- यह जगह अब खराब हो चुकी है

डोनाल्ड ट्रंप ने खशोगी हत्या के लिए इसे ठहराया जिम्मेदार

वाशिंगटन:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने पत्रकार जमाल खशोगी (Khashoggi case) की हत्या को लेकर शुक्रवार को एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि खशोगी (Khashoggi case) की हत्या के लिए कोई और नहीं बल्कि दुनिया ही जिम्मेदार है. ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि दुनिया बहुत ही खराब हो गई है. यह बहुत खराब जगह है. सऊदी अरब के शाह सलमान और वली अहद मोहम्मद बिन-सलमान द्वारा खशोगी की हत्या में कोई हाथ नहीं होने की बात कहे जाने के बाद ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि वह इस बात से इत्तेफाक नहीं रखते हैं कि अमेरिकी खुफिया विभाग इस निष्कर्ष पर पहुंचा है कि पत्रकार जमाल खशोगी (Khashoggi case)  की हत्या का आदेश सऊदी अरब के वली अहद ने ही दिया. इन सब के बीच अमेरिकी कांग्रेस और अन्य देशों के शीर्ष पदाधिकारी ट्रंप पर लगातार मानवाधिकारों के उल्लंघन को नजरअंदाज करने और आर्थिक कारणों से सऊदी अरब के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगा रहे हैं.

यह भी पढ़ें: CIA का दावा, सऊदी अरब के युवराज वली अहद ने कराई पत्रकार खशोगी की हत्याः रिपोर्ट

ध्यान हो कि ट्रंप ने इस सप्ताह कहा था कि वह सऊदी अरब के वली अहद मोहम्मद बिन सलमान के लिये कोई कठोर दंड तय नहीं करेंगे. दरअसल, अमिरेकी राष्ट्रपति थैंक्स गिविंग के लिए सैनिकों के साथ फोन पर बातचीत करने के बाद संवाददाताओं से बात कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरी नीति बहुत सरल है, अमेरिका पहले, अमेरिका को फिर से महान बनाना और मैं यही कर रहा हूं. ट्रंप ने कहा कि वली अहद और उनके पिता शाह सलमान का कहना है कि उन्होंने यह काम नहीं किया है. उन्होंने कहा कि यह बेहद खराब है. आपकी तुलना में मैं इसे ज्यादा नापसंद करता हूं लेकिन तथ्य यह है कि वे बहुत धन सृजन करते हैं, अपनी खरीदी के कारण वे बहुत नौकरियां पैदा करते हैं, वे कच्चे तेल की कीमत कम रखते हैं.

यह भी पढ़ें: खशोगी हत्या मामला: अमेरिका ने 17 सऊदी नागरिकों पर प्रतिबंध लगाया 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस मामले से जुड़े एक अमेरिकी अधिकारी के अनुसार, अमेरिकी खु्फिया एजेंसियां इस निष्कर्ष पर पहुंची हैं कि वली अहद ने तुर्की स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास के भीतर खशोगी की हत्या का आदेश दिया था. अधिकारी को इस संबंध में मीडिया से बातचीत करने की अनुमति नहीं है, इसलिए उसने पहचान गुप्त रखने की शर्त पर यह जानकारी दी. गौरतलब है कि इससे पहले ट्रंप ने खशोगी की हत्या मामले में कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहने के संकेत दिए थे. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि उनका देश पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या को लेकर अगले सप्ताह की शुरुआत तक कोई बड़ा फैसला ले सकता है.

VIDEO: क्या ट्रंप यूरोप को मंदी की तरफ धकेल रहे हैं.

ट्रंप का यह बयान सीआईए की उस रिपोर्ट के बाद आया है जिसमें खशोगी की हत्या के लिए सऊदी अरब के वली अहद मोहम्मद बिन सलमान को जिम्मेदार ठहराया गया है. दो अक्टूबर को हुई इस हत्या को लेकर सऊदी अरब  बार-बार अपना रुख बदलता रहा है. पहले उसने विद्रोही पत्रकार के बारे में जानकारी होने से इनकार कर दिया और फिर बाद में यह माना कि एक बहस के उग्र रूप लेने के चलते आवेश में खशोगी की हत्या हुई. इस सप्ताह सऊदी अरब के एक अभियोजक ने इस नृशंस हत्याकांड में वली अहद की संलिप्तता से इनकार किया था. (इनपुट भाषा से)