NDTV Khabar

भारतीय अमेरिकी अनुराग सिंघल बन सकते हैं न्यायाधीश, खुद डोनाल्ड ट्रंप ने किया नामित

राइस विश्वविद्यालय से स्नातक, सिंघल ने ‘वेक फॉरेस्ट यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ लॉ’ में अध्ययन किया. उनके माता-पिता 1960 में अमेरिका आए थे. उनके पिता अलीगढ़ से थे और एक्सॉन में एक शोध वैज्ञानिक थे. उनकी मां देहरादून से थीं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय अमेरिकी अनुराग सिंघल बन सकते हैं न्यायाधीश, खुद डोनाल्ड ट्रंप ने किया नामित

ट्रंप ने भारतीय अमेरिकी को फ्लोरिडा में न्यायाधीश नामित किया

वाशिंगटन:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक भारतीय अमेरिकी को फ्लोरिडा में संघीय न्यायाधीश नामित किया है. अनुराग सिंघल उन 17 न्यायाधीशों में शामिल हैं जिनके नाम व्हाइट हाउस ने सीनेट को भेजे हैं. अगर उनके नाम को सीनेट की मंजूरी मिल जाती है तो वह जेम्स आई. कोहन का स्थान लेंगे.

सिंघल फ्लोरिडा में इस पद के लिए नामित होने वाले पहले भारतीय अमेरिकी हैं. उनके नाम पर सहमति के लिए सीनेट की ज्यूडीशियरी कमेटी में बुधवार को सुनवाई होनी है.

फिलहाल वह फ्लोरिडा में 17वें सर्किट कोर्ट में पदस्थापित हैं. वह इस पद पर 2011 से हैं.

अब चीन ने भी चंद्रयान 2 मिशन और ISRO की तारीफ, कहा- वैज्ञानिकों को उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए

राइस विश्वविद्यालय से स्नातक, सिंघल ने ‘वेक फॉरेस्ट यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ लॉ' में अध्ययन किया. उनके माता-पिता 1960 में अमेरिका आए थे. उनके पिता अलीगढ़ से थे और एक्सॉन में एक शोध वैज्ञानिक थे. उनकी मां देहरादून से थीं.


इंडिया वेस्ट समाचार पत्र के अनुसार सिंघल को बहुचर्चित ऐलीन वुओर्नोस मामले की पैरवी करने के लिए जाना जाता है, जो एक सीरियल किलर थी और जिसने फ्लोरिडा में सात पुरुषों की हत्या की थी.

पाकिस्तान की पहली महिला अंतरिक्ष यात्री ने चंद्रयान-2 के लिए ISRO को दी बधाई, कही ये बात

उन्होंने सुनवाई के दौरान पहले वुओर्नोस की पैरवी नहीं की लेकिन जब आरोपी ने जेल के गार्ड्स पर गंभीर आरोप लगाए तो उन्होंने उसके लिए मुकदमा लड़ा था.

टिप्पणियां

VIDEO: कश्मीर मुद्दे पर डोनाल्ड ट्रंप और पीएम मोदी के बीच फोन पर हुई बात



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement