NDTV Khabar

डोनाल्ड ट्रंप बोले- विश्व ने जरूरत से ज्यादा संघर्ष देखा है, मगर अब वह...

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि विश्व ने काफी संघर्ष का सामना किया है और अब वह सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण भविष्य का हकदार है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोनाल्ड ट्रंप बोले- विश्व ने जरूरत से ज्यादा संघर्ष देखा है, मगर अब वह...

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि विश्व ने काफी संघर्ष का सामना किया है और अब वह सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण भविष्य का हकदार है. ट्रंप ने शुक्रवार को एक वीडियो संदेश में कहा , ‘हमारे विश्व ने जरूरत से ज्यादा संघर्ष देखा है. अगर शांति की कोई संभावना है, अगर परमाणु संघर्ष के खतरे को समाप्त करने की कोई संभावना है तो हमें हर कीमत पर इसे हासिल करना चाहिए. अमेरिकी लोग, कोरियाई लोग और विश्वभर के लोग सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण भविष्य के हकदार हैं.’

अपने तीन मिनट के एक वीडियो संदेश में ट्रंप ने सिंगापुर में उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के साथ हुई अपनी बातचीत का भी जिक्र किया. ट्रंप ने कहा , ‘मैं इस सप्ताह की शुरुआत में सिंगापुर से ऐतिहासिक शिखर वार्ता कर लौटा, जहां मैंने उत्तर कोरिया के प्रमुख किम जोंग-उन से मुलाकात की. इस वार्ता से अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच एक नए रिश्ते का आगाज हुआ है और इसने सभी कोरियाई लोगों (उत्तर एवं दक्षिण) के लिए भविष्य के मार्ग खोल दिए हैं.’

उन्होंने कहा कि इस वार्ता ने पूर्व प्रशासन के असफल दृष्टिकोण को भी समाप्त किया. गौरतलब है कि उत्तर कोरियाई नेता के साथ किसी भी अमेरिकी राष्ट्रपति की यह पहली बैठक थी. ट्रंप ने कहा , ‘हमारी बातचीत बेहद स्पष्ट, ईमानदार और काफी लाभकारी रही. हम कुछ ऐसा करेंगे जो बेहतरी के लिए ही होगा. शिखर वार्ता के अंत में हमने एक संयुक्त समझौते पर हस्ताक्षर किए जिसमें किम ने कोरियाई प्रायद्वीप में पूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण की अपनी अविश्वसनीय प्रतिबद्धता को दोहराया है.’    

उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्रीकरण की ओर यह एक कदम है. ‘मैं कई बार कहता हूं कि उत्तर कोरिया परमाणु निरस्त्रीकरण, बेहद अच्छे शब्द हैं.’ अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा , ‘हमारी बातचीत के दौरान, मैंने नई समृद्धि, सुरक्षा और अवसर पर जोर दिया जो परमाणु निरस्त्रीकरण के बाद उत्तर कोरिया का इंतजार कर रही है. जैसा कि मैंने सिंगापुर में कहा था, किम के पास अपने लोगों को एक अद्भुत भविष्य देने का मौका है.’    

उन्होंने कहा , ‘कोई भी युद्ध कर सकता है, लेकिन सबसे साहसिक व्यक्ति ही शांति स्थापित कर सकता है. विश्व ने काफी संघर्ष देखा है, अगर वहां शांति की कोई संभावना है, अगर परमाणु संघर्ष समाप्त करने की कोई संभावना है, तो हमें हर कीमत पर इसे हासिल करना चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘अमेरिका के लोगों, कोरिया के लोगों और विश्वभर के लोग सुरक्षित एवं शांतिपूर्ण भविष्य के हकदार हैं और इसलिए ही हमने संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर किए हैं.’    

टिप्पणियां
ट्रंप ने कहा कि आने वाले दिनों में विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ परमाणु निरस्त्रीकरण समझौते के क्रियान्वयन के लिए उत्तर कोरियाई लोगों के साथ सीधे तौर पर कार्य करेंगे. इस बीच, उनपर प्रतिबंध लागू रहेंगे. उन्होंने कहा , ‘हमें पता है कि आगे एक बड़े समझौते पर काम करना है, लेकिन शांति उन प्रयासों को हमेशा मूल्यवान बना देती है. हम काफी मेहनत से काम कर रहे हैं. मैंने दौरा किया. उसका हर एक सेकंड कीमती रहा. वह एक शानदार समारोह था. एशिया के लोग अब सुरक्षित महसूस करते हैं, पूरे विश्व के लोग मेरे राष्ट्रपति बनने के पहले की तुलना में अब अधिक सुरक्षित महसूस करते हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement