NDTV Khabar

ट्रंप ने अपने नववर्ष संदेश में फेक न्यूज मीडिया व आलोचकों पर साधा निशाना 

ट्रंप ने लोकप्रिय सोशल मीडिया साइट पर नए साल की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नफरत करने वालों और फेक न्यूज मीडिया सहित हर किसी के लिए नया साल मुबारक हो!

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ट्रंप ने अपने नववर्ष संदेश में फेक न्यूज मीडिया व आलोचकों पर साधा निशाना 

डोनाल्ड ट्रंप ने मीडिया पर बोला हमला

वाशिंगटन:

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को अपने नववर्ष संदेश में अपने आलोचकों और फेक न्यूज मीडिया पर निशाना साधा और कहा कि 2019 उन लोगों के लिए बेहतरीन साल होगा जो "ट्रम्प डिरेंजमेंट सिंड्रोम" से पीड़ित नहीं हैं. उन्होंने ट्विटर पर अपने 5.67 करोड़ से अधिक फोलोवरों को हैप्पी न्यू ईयर विश किया.  ट्रंप ने लोकप्रिय सोशल मीडिया साइट पर नए साल की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नफरत करने वालों और फेक न्यूज मीडिया सहित हर किसी के लिए नया साल मुबारक हो! उन लोगों के लिए 2019 शानदार वर्ष होगा जो ‘ट्रम्प डिरेंजमेंट सिंड्रोम' से पीड़ित नहीं हैं. आंशिक सरकारी शटडाउन के कारण ट्रम्प व्हाइट हाउस में ही रहे. उनकी योजना क्रिसमस और नए साल की छुट्टियों फ्लोरिडा में अपने रिसॉर्ट में मनाने की थी.

 


इन सब के बीच अमेरिका-मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के मुद्दे पर सरकार और विपक्ष के बीच गतिरोध कायम है. इस गतिरोध के कारण ही आंशिक शटडाउन की स्थिति बनी है. ट्रंप का तर्क है कि देश के अंदर अवैध प्रवासियों के प्रवाह को रोकने के लिए दीवार आवश्यक है. वहीं विपक्षी डेमोक्रेट्स का कहना है कि दीवार का निर्माण करदाताओं के पैसे की बर्बादी है. बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने इससे पहले भी मीडिया पर हमला बोला था. कुछ समय पहले ही डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि मीडिया ‘अमेरिकी लोगों का दुश्मन' है.

टिप्पणियां

 

ट्रंप ने ट्वीट किया था कि ‘‘फेक न्यूज' मीडिया (नाकाम हो रहे एनवाईटाइम्स, एनबीसीन्यूज, एबीसी, सीबीएस, सीएनएन) मेरा दुश्मन नहीं है, वह अमेरिकी लोगों का दुश्मन है. उन्होंने अपने उस बयान के एक दिन बाद यह तीखा हमला किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि उनका प्रशासन अच्छी तरह काम कर रहा है और व्हाइट हाउस के भीतर कोई ‘अव्यवस्था' नहीं है जैसा कि मीडिया की ‘झूठी' रिपोर्टों में बताया जा रहा है. ट्रंप ने कहा था कि उन्हें समाचार पत्रों और टेलीविजन चैनलों पर व्हाइट हाउस में व्यवस्था होने की खबरें पढ़कर और सुनकर नाखुशी होती है. (इनपुट भाषा से) 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement