NDTV Khabar

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं, आतंकवाद के खिलाफ नाटो सदस्य करें 'बड़ी कोशिशें'

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने कहा, "नाटो के लिए पूरे सम्मान के साथ, डोनाल्ड ट्रंप आतंकवाद से निपटने के लिए ज़्यादा बड़े प्रयास होते हुए देखना चाहते हैं और दूसरा वह चाहते हैं कि जो देश आर्थिक सहायता के लिए सहमत हुए थे, उसे वे पूरा करें..."

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं, आतंकवाद के खिलाफ नाटो सदस्य करें 'बड़ी कोशिशें'

डोनाल्ड ट्रंप इस सप्ताह के अंत में पांच देशों की यात्रा के लिए रवाना हो रहे हैं और इस दौरान वह ब्रसेल्स में नाटो के सम्मेलन में शामिल होंगे...

वाशिंगटन:

व्हाइट हाउस ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं कि आतंकवाद से निबटने के लिए नाटो के सदस्य देश ज़्यादा बड़े प्रयास करें, और साथ ही वह यह भी चाहते हैं कि सदस्य देश ज़्यादा से ज़्यादा आर्थिक सहयोग करें.

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "नाटो के लिए पूरे सम्मान के साथ, एक तो वह (डोनाल्ड ट्रंप) आतंकवाद से निपटने के लिए ज़्यादा बड़े प्रयास होते हुए देखना चाहते हैं और दूसरा वह चाहते हैं कि जो देश आर्थिक सहायता के लिए सहमत हुए थे, उसे वे पूरा करें..." डोनाल्ड ट्रंप इस सप्ताह के अंत में पांच देशों की यात्रा के लिए रवाना हो रहे हैं और इस दौरान वह ब्रसेल्स में नाटो के सम्मेलन में शामिल होंगे.

नाटो नेताओं के साथ बैठक में अमेरिकी राष्ट्रपति अफगानिस्तान तथा इस्लामिक स्टेट (आईएस) के खिलाफ लड़ाई जैसे मुद्दे पर चर्चा करेंगे.


टिप्पणियां

एक अन्य संवाददाता सम्मेलन में पेंटागन के प्रवक्ता कैप्टन जेफ डेविस ने कहा, नाटो उत्तर अटलांटिक क्षेत्र में शांति और स्थायित्व का गारंटर बना रहेगा. उन्होंने कहा, "नाटो चार्टर के अनुच्छेद पांच के तहत सामूहिक रक्षा के लिए हमारी प्रतिबद्धता स्पष्ट है... इस ग्रीष्म में हम काले सागर तथा यूरोप के बाल्टिक क्षेत्र में 20 से अधिक देशों के साथ अनेकों अभ्यास होने की उम्मीद कर रहे हैं..."

जेफ डेविस ने कहा कि उन्नत फार्वर्ड प्रेजेन्स अथवा ईएफपी नाटो का मिशन है, जो किसी भी संभावित कार्रवाई से नाटो को अपनी सीमाओं की रक्षा के लिए संयुक्त एकता को प्रदर्शित करता है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement