NDTV Khabar

इस देश में ई-सिगरेट पीने से 18 की मौत और हज़ारों बीमार, भारत में हो चुकी है Ban

टीएचसी गांजे का मुख्य स्वापक पदार्थ है जो व्यक्ति के मिजाज एवं अन्य दिमागी प्रक्रियाओं को प्रभावित करता है. इन मरीजों में 70 प्रतिशत पुरुषों और 80 प्रतिशत महिलाओं की उम्र 35 साल से कम है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस देश में ई-सिगरेट पीने से 18 की मौत और हज़ारों बीमार, भारत में हो चुकी है Ban

अमेरिका में ई-सिगरेट के कारण 18 लोगों की मौत, 1000 बीमार

वाशिंगटन:

अमेरिका में ई-सिगरेट (E-Cigarette) के इस्तेमाल के कारण संभवत: फेफड़ों पर प्रतिकूल असर पड़ने के कारण अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है. इससे पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 1,080 हो गई है. अमेरिकी स्वास्थ्य प्राधिकारियों ने यह जानकारी दी.

‘सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन' के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड ने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से, इस बीमारी को अमेरिकी लोगों, खास कर युवाओं पर पड़ने वाले स्वास्थ्य संबंधी खतरों के बढ़ने के लिहाज से देखें तो यह एक भयावह समस्या का महज छोटा सा हिस्सा हो सकता है.''

एजेंसी ने बताया कि पिछले हफ्ते सामने आए 275 मामलों में पिछले दो हफ्ते में बीमार पड़े नये मरीज और पहले से मरीज की श्रेणी में रखे गए लोग दोनों शामिल थे. पुराने मरीजों को फिर से बीमारी के लक्षण नजर आने की शिकायत है.

मरीजों ने किन-किन पदार्थों का इस्तेमाल किया, इस संबंध में 578 मरीजों से पूछे गए सवाल में सामने आया कि 78 प्रतिशत ने निकोटिन युक्त या बिना निकोटिन वाला टेट्राहाइड्रोकैनाबिनोल (टीएचसी) उत्पादों का इस्तेमाल किया, 37 प्रतिशत ने सिर्फ टीएचसी उत्पादों और 17 प्रतिशत ने निकोटिन युक्त उत्पादों का इस्तेमाल किया था.


टीएचसी गांजे का मुख्य स्वापक पदार्थ है जो व्यक्ति के मिजाज एवं अन्य दिमागी प्रक्रियाओं को प्रभावित करता है. इन मरीजों में 70 प्रतिशत पुरुषों और 80 प्रतिशत महिलाओं की उम्र 35 साल से कम है.

अमेरिका के कुछ राज्यों में ई-सिगरेट पर प्रतिबंध लगाया गया है, वहीं भारत में ई-सिगरेट के सभी उत्पादों पर पूरी तरह प्रतिबंध लग चुका है.

दुनिया से जुड़ी और खबरें...

शेख हसीना के भारत दौरे से ऐन पहले पाक पीएम इमरान खान ने उन्हें किया फोन, कही ये बात

ये है दुनिया की सबसे जानलेवा 'मशरूम', सिर्फ छू लेने से ही हो जाती है मौत

कैबिन क्रू ने महिला को नहीं जाने दिया टॉयलेट, 7 घंटे बाद यात्री का हुआ ऐसा हाल

लंदन की कोर्ट से पाकिस्तान को झटका, निजाम के खजाने पर दावा खारिज- भारत को मिलेंगे 306 करोड़ से ज्यादा

टिप्पणियां

VIDEO: ई सिगरेट क्या नुकसान पहुंचाती है



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement