NDTV Khabar

समूची धरती पर जून रहा अब तक का सबसे गर्म महीना, अब जुलाई तोड़ सकता है रिकॉर्ड

जून के महीने में पश्चिमी यूरोप भयंकर हीटवेव की चपेट में रहा, जहां अंतिम सप्ताह में तो सर्वकालिक उच्चतम तापमान उन देशों में भी दर्ज किया गया, जहां एक सदी से भी उच्चतम तापमान के रिकॉर्ड नहीं टूटे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
समूची धरती पर जून रहा अब तक का सबसे गर्म महीना, अब जुलाई तोड़ सकता है रिकॉर्ड

जून ही की तरह जुलाई में भी अधिकतम तापमान के कई आंकड़े दर्ज हुए हैं.

नई दिल्ली:

यूरोप में आई ऐतिहासिक हीटवेव तथा आर्कटिक व यूरेशिया में गैरमामूली गर्म माहौल की वजह से धरती का औसत तापमान जून के महीने में अब तक के शीर्षतम स्तर तक पहुंच गया है. NASA द्वारा सोमवार को जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, वैश्विक औसत तापमान जून के सामान्य तापमान (1951 से 1980 की बेसलाइन पर आधारित) से 1.7 डिग्री फैरेनहाइट (0.93 डिग्री सेल्सियस) ऊपर दर्ज किया गया, जो इससे पहले जून, 2016 में औसत से 1.5 डिग्री फैरेनहाइट (0.82 डिग्री सेल्सियस) ऊपर दर्ज हुए तापमान से ज़्यादा है.

'वाशिंगटन पोस्ट' में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, जून के महीने में पश्चिमी यूरोप भयंकर हीटवेव की चपेट में रहा, जहां अंतिम सप्ताह में तो सर्वकालिक उच्चतम तापमान उन देशों में भी दर्ज किया गया, जहां एक सदी से भी उच्चतम तापमान के रिकॉर्ड नहीं टूटे थे. फ्रांस में 13 स्थानों पर सर्वकालिक उच्चतम तापमान का रिकॉर्ड टूटा. हीटवेव के दौरान दर्ज किया गया सर्वोच्च तापमान 114.6 डिग्री फैरेनहाइट (45.9 डिग्री सेल्सियस) रहा, जो गलारगुएस-ले-मॉन्ट्यूक्स में दर्ज हुआ. यह पिछले उच्चतम तापमान के जुलाई-अगस्त, 2003 में दर्ज किए गए रिकॉर्ड से 3.2 डिग्री ज़्यादा है.

बीते 76 सालों में धरती की ये दो जगहें रहीं सबसे गर्म, जानिये कितना रहा तापमान


NASA दूसरी संस्था है, जिसने समूची पृथ्वी के लिए जून, 2019 के सबसे गर्म होने की पुष्टि की है, क्योंकि कोपरनिकस क्लाइमेट चेंज सर्विस ने पहले ही कहा था कि पूरे यूरोप और वैश्विक रूप से जून, 2019 सबसे गर्म रहा है.

'वाशिंगटन पोस्ट' के अनुसार, इसके अलावा कैलिफोर्निया के बर्कले में बसे क्लाइमेट विज्ञानी ज़ेके हौसफादर ने कहा कि जुलाई भी बिल्कुल वैसा ही जा रहा है, जैसा जून गया है. उन्होंने एक ट्वीट में कहा है कि अब तक बीता जुलाई भी वर्ष 2017 में बने पिछले रिकॉर्ड की तुलना में कुछ आगे निकल चुका है.

दो ग्रहों की हुई खोज, जहां हैं जीवन के आसार, धरती मिली गर्म और पानी की उम्मीद

पेनसिल्वानिया स्टेट यूनिवर्सिटी में क्लाइमेट विज्ञानी माइकल मान ने ट्वीट किया है, "अगर यह जुलाई भी सबसे गर्म जुलाई साबित हुई, तो यह पृथ्वी का अब तक का सबसे गर्म महीना बन जाएगी..."

जून ही की तरह जुलाई में भी अधिकतम तापमान के कई आंकड़े दर्ज हुए हैं. इनमें कनाडा का नुनावुट शामिल है, जो पृथ्वी पर बसा हुआ सबसे उत्तरी क्षेत्र है. यहां पर रविवार को 69.8 डिग्री फैरेनहाइट (21.0 डिग्री सेल्सियस) तापमान दर्ज हुआ, जो पिछले रिकॉर्ड 20.0 डिग्री सेल्सियस से पूरा एक डिग्री ज़्यादा है.

टिप्पणियां

भयंकर गर्मी के कारण सूखते जा रहे हैं देश के बड़े जलाशय, केंद्र ने राज्यों को जारी की एडवाइजरी

VIDEO: दुनिया में सबसे गर्म हिंदुस्तान!



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement