NDTV Khabar

इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके, सुनामी का अलर्ट जारी: यूएसजीएस

भूकंप की तीव्रता को देखते हुए अधिकारियों ने सुनामी की एक चेतावनी जारी की है और लोगों से समुद्र में नहीं जाने की अपील की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके, सुनामी का अलर्ट जारी: यूएसजीएस

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. भूंकप के बाद जान-माल को कोई नुकसान नहीं
  2. पिछले सप्ताह भी आया था इंडोनेशिया में भूकंप
  3. सुनामी के अलर्ट को देखते हुए खाली कराए गए कई इलाके
नई दिल्ली: इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर रविवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के अनुसार रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 7 मापी गई है. अभी तक की जानकारी के अनुसार किसी तरह के जान-माल की हानी नहीं हुई है. गौरतलब है कि एक सप्ताह पहले ही इस द्वीप पर आये भूकंप में 17 व्यक्तियों की मौत हो गई थी.यूएसजीएस ने कहा कि भूकंप का केंद्र जमीन से केवल 10 किलोमीटर नीचे था. भूकंप की तीव्रता को देखते हुए अधिकारियों ने सुनामी की एक चेतावनी जारी की है और लोगों से समुद्र में नहीं जाने की अपील की है. मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी के अधिकारी डी कर्नावती ने स्थानीय टेलीविजन चैनल से कहा कि कृपया शांत रहें और घबराये नहीं.

यह भी पढ़ें: पूर्वी इंडोनेशिया में आया 6.4 तीव्रता का भूकंप, सुनामी की चेतावनी जारी

गौरतलब कि इसी साल अप्रैल मे एक ऐसा ही तेज रफ्तार का भूकंप आया था. इंडोनेशिया में आए इस भूकंप की वजह से तीन लोगों की मौत हो गई थी और 300 से अधिक घरों को नुकसान पहुंचा था. रिक्टर स्केल पर भूकंत की तीव्रता 4.4 थी. भूकंप के बाद इंडोनेशिया में दो सप्ताह का आपातकाल घोषित कर दिया गया था. इंडोनेशिया की मौसम एवं भू-भौतिकी एजेंसी ने बताया था कि भूकंप का केन्द्र जावा प्रांत के घनी आबादी वाले जिले केबुमेन से 52 किलोमीटर उत्तर में था और यह चार किलोमीटर की गहराई पर था.

यह भी पढ़ें: इंडोनेशिया में भूकंप के जोरदार झटके; तीव्रता 6.5 मापी गई, तीन लोगों की मौत

मध्य जावा की आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रमुख सारवो प्रमाना ने बताया कि प्रांत के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किये गये. भूकंप की चपेट में आकर कुल तीन लोगों की मौत हुई है. इसमें दो व्यक्ति और 13 वर्षीय किशोर शामिल है. उन्होंने बताया कि आपदा में घायल हुए 21 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और 2,100 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया था.प्रांत में 14 दिन के आपात राहत अवधि की घोषणा की गयी है.

टिप्पणियां
VIDEO: भारत में सुनामी का मॉक ड्रिल


दूसरी तरफ राष्ट्रीय आपदा शमन एजेंसी सुतोपो पुरवो ने बताया कि भूकंप के चलते 300 से अधिक घरों के साथ कई स्कूलों एवं मस्जिदों को भी नुकसान पहुंचा था. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement