NDTV Khabar

इक्वाडोर में जोरदार भूकंप ने ली 233 लोगों की जान, मलबे में दबे लोगों की तलाश जारी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इक्वाडोर में जोरदार भूकंप ने ली 233 लोगों की जान, मलबे में दबे लोगों की तलाश जारी

इक्वाडोर में भूकंप से तबाही का मंजर (फोटो : एएफपी)

पेडरनेल्स:

इक्वाडोर में दशकों में पहली बार आए शक्तिशाली भूकंप के कारण इमारतें जमींदोज हो गईं और इसके प्रशांत तटीय इलाके में राजमार्ग ध्वस्त हो गए। राष्ट्रपति राफेल कोरेया ने कहा है कि कम से कम 233 लोग भूकंप में मारे गए हैं और बचावकर्मी मलबे में दबे जीवित बचे लोगों तक पहुंचने की कोशिश में जुटे हैं।

7.8 थी भूकंप की तीव्रता
1979 के बाद इक्वाडोर में आए 7.8 तीव्रता के भूकंप का केंद्र 170 किलोमीटर दूर उत्तर पश्चिम में राजधानी क्वेटो में स्थित था। इस संकट से निपटने के लिए रोम से लौटते हुए कोरेया ने अपने ट्विटर एकाउंट पर लोगों की मौत के बारे में जानकारी दी। इससे पूर्व अधिकारियों ने 580 से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना दी थी।

उप राष्ट्रपति जार्ज ग्लास ने बताया कि मांटा, पोर्तोविजियो और गुयाकिल में शनिवार आधी रात के कुछ ही देर बाद आए भूकंप में लोगों की मौत हुई है। करीब 40 हजार की आबादी वाले पेडरनेल्स में डरे सहमे दर्जनों लोग गलियों में सो रहे हैं और लोगों ने कारों की हेडलाइट्स की रोशनी के सहारे मलबे में दबे लोगों को निकालने की कोशिशें की, जिनकी चीखें मलबे के नीचे से सुनी जा सकती थी।


टिप्पणियां

राष्ट्रीय आपदा घोषित
पेडरनेल्स के गवर्नर गैब्रियल ऐल्सिवार ने बताया, 'हम जो कुछ हो सकता है करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन हमारे पास कुछ नहीं है।' उन्होंने प्रशासन से क्रेन और आपात राहत बचावकर्मियों को भेजने की अपील की है। कोरेया ने राष्ट्रीय आपदा की घोषणा कर दी है और देशवासियों से बहादुरी से इस आपदा का मुकाबला करने का आह्वान किया है।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement