NDTV Khabar

मिस्र : 21 लोगों के सिर काटने के आरोप में 7 लोगों को अदालत ने सुनाई मौत की सजा

अदालत में न्यायाधीश ने कहा कि आरोपी उग्रवादियों ने काहिरा, अलेक्जेंड्रिया, मरास माट्रोह और मिस्र के बाहर 2012 से अप्रैल 2016 तक आतंकवादी हमलों में हिस्सा लिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मिस्र :  21 लोगों के सिर काटने के आरोप में 7 लोगों को अदालत ने सुनाई मौत की सजा

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. सात लोगों को शनिवार को सुनाई गई मौत की सजा.
  2. आरोपियों ने 2012 से अप्रैल 2016 तक आतंकवादी हमलों में हिस्सा लिया था.
  3. कुछ आतंकवादी 2015 के फरवरी तक लीबिया में काम कर रहे थे.
काहिरा: मिस्र की एक अदालत ने लीबिया में इस्लामिक स्टेट (आईएस) से जुड़ने और काप्ट्स इसाई समुदाय के 21 लोगों के सिर काटने जैसे अपराध में शामिल सात लोगों को शनिवार को मौत की सजा सुनाई. आधिकारिक समाचार एजेंसी मेना ने एक अभियोजक के हवाले से बताया कि मुलजिमों ने नए लोगों की भर्ती करने एवं परीक्षण देने और आतंकवादी गतिविधियों की योजना बनाने के लिए लीबिया की सीमा के करीब मार्सा माट्रोह प्रांत के उत्तरी तटीय शहर में एक गुट का गठन किया.

यह भी पढ़ें : मिस्र में मस्जिद में हुए आतंकी हमले में मरने वाले लोगों की संख्या 305 हुई

काहिरा फौजदारी अदालत ने इस फैसले पर गैर-बाध्यकारी इस्लामिक कानूनी राय के लिए देश के सर्वोच्च धार्मिक प्राधिकरण, ग्रैंड मुफ्ती को आतंकवादी समूह के सात सदस्यों की फाइलें भेजी हैं.

VIDEO : US ने ISIS ठिकाने पर गिराया सबसे बड़ा बम, जारी हुआ वीडियो​


टिप्पणियां
अदालत में न्यायाधीश ने कहा कि आरोपी उग्रवादियों ने काहिरा, अलेक्जेंड्रिया, मरास माट्रोह और मिस्र के बाहर 2012 से अप्रैल 2016 तक आतंकवादी हमलों में हिस्सा लिया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, मिस्र के 21 कॉप्ट्स की हत्या में भी शामिल कुछ आतंकवादी 2015 के फरवरी तक लीबिया में काम कर रहे थे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement