NDTV Khabar

पाकिस्तान चुनाव आयोग ने इमरान खान को दी हिदायत, कहा - प्रचार के दौरान अनुचित भाषा के इस्तेमाल से बचें

चुनाव आयोग ने इमरान की ओर से अभद्र शब्दों के इस्तेमाल पर गौर किया और उन्हें निर्देश दिया कि वे आयोग के सामने पेश हों.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान चुनाव आयोग ने इमरान खान को दी हिदायत, कहा - प्रचार के दौरान अनुचित भाषा के इस्तेमाल से बचें

पाकिस्तान आयोग ने इमरान खान को उनकी भाषा को लेकर दी चेतावनी

लाहौर:

पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने पाकिस्तान तहरीक - ए - इंसाफ (पीटीआई) के प्रमुख इमरान खान को चेतावनी दी है कि वह चुनाव प्रचार के दौरान अनुचित भाषा के इस्तेमाल से बचें. खास बात यह है कि आयोग ने इमरान को यह चेतावनी तब दी है जब पिछले दिनों उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के समर्थकों को गधा करार दिया था.अधिकारियों के समक्ष आत्मसमर्पण करने के लिए शरीफ और उनकी बेटी मरियम की पाकिस्तान वापसी से एक दिन पहले इमरान ने कहा था हवाई अड्डे पर शरीफ का स्वागत करने के लिए जो भी जाएगा , वह गधा  होगा. हालांकि पीएमएल - एन कार्यकर्ताओं ने इमरान की टिप्पणी पर कड़ा विरोध जताया था और सीनेट के अगले सत्र में जमकर हंगामा हुआ था. इसमें दोनों पार्टियों ने एक - दूसरे पर खूब हमले बोले.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान : चुनावों में इमरान खान की पार्टी को आतंकी संगठन ने दिया समर्थन


डॉन न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक , पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने इमरान खान के चुनाव प्रचार के दौरान अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने से रोक दिया है. चुनाव आयोग ने इमरान की ओर से अभद्र शब्दों के इस्तेमाल पर गौर किया और उन्हें निर्देश दिया कि वे आयोग के सामने पेश हों. इस निर्देश के बाद भी इमरान आयोग के सामने पेश नहीं हुए , लेकिन उनके वकील और पीटीआई के नेता बाबर अवान उनकी तरफ से सुनवाई के वक्त मौजूद थे. सिंध प्रांत से आयोग के सदस्य अब्दुल गफ्फूर सूमरो की अगुवाइ्र वाले चार सदस्यीय आयोग ने अवान से कहा कि जब बड़े नेता ऐसी भाषा का इस्तेमाल करते हैं तो दुनिया में (पाकिस्तान की) अच्छी छवि नहीं जाती.

यह भी पढ़ें: चुनाव प्रचार में मरियम के बेटे को उतार सकती है पीएमएल-एन

अवान ने शुरु में इमरान की ओर से अभद्र शब्दों के इस्तेमाल का बचाव किया , लेकिन बाद में वह झुके और चुनाव आयोग को आश्वस्त किया कि उनके मुवक्किल निर्देशों का पालन करेंगे. आयोग ने अवान से कहा कि आप अपने नोटिस पर ध्यान दीजिए , दूसरों को भी नोटिस भेजे जा रहे हैं. गौरतलब है कि पाकिस्तान में 25 जुलाई को चुनाव होने हैं. परेशानियों से घिरी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) चुनाव प्रचार में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज के बेटे जुनैद सफदर को लांच कर सकती है. पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और मरियम भ्रष्टाचार के मामले में जेल में हैं. डॉन ऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, इंग्लैंड विश्वविद्यालय में राजनीति के छात्र सफदर सोमवार को पाकिस्तान पहुंचे. वह रावलपिंडी के अदियाला जेल में सजा काट रहे अपने नाना नवाज शरीफ, पिता सेवानिवृत कैप्टन सफदर अवान और मां मरियम से मिलने जा सकते हैं.

यह भी पढ़ें: चुनाव से पहले फेसबुक ने मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को दिया बड़ा झटका

शरीफ और उनकी बेटी को पिछले सप्ताह लंदन से लौटने के बाद लाहौर हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया गया था. जवाबदेही अदालत ने लंदन में उनके चार आलीशान फ्लैट से संबद्ध मामले में दोषी करार दिया है. पार्टी के शीर्ष पदाधिकारी ने डॉन ऑनलाइन को बताया कि यह तो नहीं पता कि जुनैद सफदर जेल में बंद अपने परिजनों से मिल सकेंगे या नहीं लेकिन वे कुछ निश्चित चुनाव क्षेत्रों में नुक्कड़ सभाएं संबोधित कर सकते हैं. उन्होंने कहा, "यद्यपि पीएमएल-एन के उम्मीदवार सफदर को अपने चुनाव क्षेत्र में बुलाने के इच्छुक हैं, लेकिन योजना यह है कि वह एनए-127 (लाहौर-5) में नुक्कड़ सभाएं करेंगे जहां से अयोग्य घोषित होने से पहले उनकी मां चुनाव लड़ना चाहती थीं. इसके अलावा पीएमएल-एन के अध्यक्ष शहबाज शरीफ चुनाव क्षेत्र एनए-132 (लाहौर-10) और एनए-59 (रावलपिंडी-2) में सभाएं कर सकते हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: थरूर के बयान पर मचा बवाल. 

रावलपिंडी-2 पर पीएमएल-एन के नेता राजा कमरुल इस्लाम पूर्व आंतरिक मंत्री चौधरी निसार अली खान के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं. इस्लाम फिलहाल जेल में बंद हैं".  उन्होंने कहा कि सफदर की उनकी मां से मुलाकात के बाद जनसभाओं के लिए और चुनाव क्षेत्र चुनने तथा उनके भाषण तैयार करने का काम किया जाएगा. पदाधिकारी ने कहा कि अगर शरीफ और उनकी बेटी की जमानत अर्जी खारिज हो जाती है तो चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी उनके और ज्यादा ऑडियो संदेश और संभव हो सका तो वीडियो संदेश जारी करेगी. दोनों नेताओं का एक-एक ऑडियो संदेश सोशल मीडिया के माध्यम से पहले ही जारी हो चुका है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement