NDTV Khabar

यूरोपीय सांसदों ने आतंकियों को पनाह देने पर पाक की निंदा की, कहा चांद पर से नहीं आते आतंकी

यूरोपीय संघ संसद और इटली में ग्रुप ऑफ यूरोपियन पीपुल्स पार्टी (क्रिश्चियन डेमोक्रेट्स) के सदस्य मार्तुससिएलो ने कहा कि पाकिस्तान ने परमाणु हथियार का इस्तेमाल करने की धमकी दी जो यूरोपीय संघ के लिए चिंता का सबब है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूरोपीय सांसदों ने आतंकियों को पनाह देने पर पाक की निंदा की, कहा चांद पर से नहीं आते आतंकी

कश्मीर पर भारत के कदम की प्रतिक्रिया में पाकिस्तान ने नयी दिल्ली के साथ कूटनीतिक संबंधों को कमतर कर दिया था.

ब्रसेल्स:

यूरोपीय सांसद रसजार्ड कजरनेकी और फुल्वियो मार्तुससिएलो ने आतंकवादियों को पनाह देने के लिए पाकिस्तान की निंदा की. इनमें से एक सांसद ने कहा कि जो आतंकवादी भारत में हमले करते हैं, वे चांद पर से नहीं आते. कश्मीर में स्थिति पर मंगलवार को यूरोपीय संसद के पूर्ण सत्र में विशेष चर्चा में यूरोपीय संघ की संसद और पोलैंड में यूरोपीय कंजर्वेटिव्स एंड रिफॉर्मिस्ट ग्रुप के सदस्य जारनेकी ने भारत को ‘दुनिया का बड़ा लोकतंत्र' बताया.

जारनेकी ने कहा, ‘भारत दुनिया का महान लोकतंत्र है. हमें भारत के जम्मू कश्मीर में होने वाली आतंकवादी गतिविधियों पर गौर करने की जरूरत है. ये आतंकवादी चांद पर से नहीं आते. ये पड़ोसी देश से आते हैं. हमें भारत का समर्थन करना चाहिए.'

इमरान खान ने पाकिस्तानियों को जेहाद के लिए कश्मीर नहीं जाने की दी चेतावनी


यूरोपीय संघ संसद और इटली में ग्रुप ऑफ यूरोपियन पीपुल्स पार्टी (क्रिश्चियन डेमोक्रेट्स) के सदस्य मार्तुससिएलो ने कहा कि पाकिस्तान ने परमाणु हथियार का इस्तेमाल करने की धमकी दी जो यूरोपीय संघ के लिए चिंता का सबब है. उन्होंने पाकिस्तान पर मानवाधिकार उल्लंघनों का आरोप लगाते हुए कहा, ‘पाकिस्तान ऐसी जगह है जहां से आतंकवादी यूरोप में खूनी आतंकवादी हमले करने की योजना बना पाए.'

यूरोपीय आयोग की उपाध्यक्ष फेडेरिका मोघरिनी की तरफ से चर्चा की शुरुआत करते हुए यूरोपीय संघ की मंत्री त्यत्ती तप्पुरैनेन ने कहा, ‘‘कोई भी कश्मीर में और तनाव बढ़ने का जोखिम मोल नहीं ले सकता.' 

कश्मीर मामले पर आया संयुक्त राष्ट्र प्रमुख का बयान, कहा- समस्या के समाधान के लिए भारत-पाकिस्तान के बीच बातचीत जरूरी

यूरोपीय संघ की मंत्री ने भारत और पाकिस्तान से वार्ता के जरिए कश्मीर मुद्दा हल करने की मांग करते हुए नियंत्रण रेखा के दोनों तरफ की कश्मीरी आबादी के हितों के सम्मान में शांतिपूर्ण और राजनीतिक हल निकालने का आह्वान किया. उन्होंने भारत से घाटी में संचार के माध्यम बहाल करने की अपील की.

भारत ने पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटा दिया था. कश्मीर पर भारत के कदम की प्रतिक्रिया में पाकिस्तान ने नयी दिल्ली के साथ कूटनीतिक संबंधों को कमतर कर दिया था.

टिप्पणियां

PM मोदी और शी चिनफिंग की मुलाकात पर आया चीन का बयान, कहा- कश्मीर नहीं होगा बातचीत का मुख्य विषय

VIDEO: भारत पाकिस्तान के बीच तनाव में काफी सुधार आया है: डोनाल्ड ट्रंप



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement