NDTV Khabar

RAW के पूर्व प्रमुख के साथ किताब लिखने पर ISI के पूर्व चीफ को पाक आर्मी का समन

पाकिस्तानी सेना ने आईएसआई के पूर्व प्रमुख असद दुर्रानी को भारतीय खुफिया एजेंसी के पूर्व प्रमुख एएस दुलत रिपीट दुलत के साथ पुस्तक का लेखन करने के लिए तलब किया और उन पर सैन्य आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप लगाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
RAW के पूर्व प्रमुख के साथ किताब लिखने पर ISI के पूर्व चीफ को पाक आर्मी का समन

खास बातें

  1. ISI के पूर्व चीफ को पाक आर्मी का ससन
  2. RAW के पूर्व प्रमुख के साथ किताब लिखने पर समन
  3. पुस्तक का विमोचन बीते बुधवार को हुआ है
इस्लामाबाद: पाकिस्तानी सेना ने आईएसआई के पूर्व प्रमुख असद दुर्रानी को भारतीय खुफिया एजेंसी के पूर्व प्रमुख एएस दुलत रिपीट दुलत के साथ पुस्तक का लेखन करने के लिए तलब किया और उन पर सैन्य आचार संहिता का उल्लंघन करने का आरोप लगाया. लेफ्टिनेंट जनरल(सेवानिवृत्त) दुर्रानी ने दुलत के साथ किताब ‘‘द स्पाई क्रॉनिकल्स रॉ, आईएसआई एडं द इल्यूशन ऑफ पीस’’का सहलेखन किया है. पुस्तक का विमोचन बुधवार को हुआ है. पाकिस्तानी सेना ने शुक्रवार रात एक बयान जारी किया, जिसमें कहा गया कि दुर्रानी (77) को 28 मई को जनरल मुख्यालय (जीएचक्यू) में बुलाया गया है और उनसे स्थिति स्पष्ट करने को कहा जाएगा. 

यह भी पढ़ें:  पाकिस्तान के खिलाफ जाकर भारत से नजदीकियां बढ़ा रहा अमेरिका: मुशर्रफ

टिप्पणियां
बयान के अनुसार, ‘‘इसे सैन्य आचार संहिता का उल्लंघन माना जाता है जो सेना के सभी सेवारत तथा सेवानिवृत्त जवानों पर लागू होती है.’’ पद से हटाए गए पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पुस्तक की विषयवस्तु पर चर्चा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएसए) की आपात बैठक बुलाने की मांग की थी जिसके बाद दुर्रानी को तलब किया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दुर्रानी ने पुस्तक में कहा है कि एबटाबाद में ओसामा बिन लादेन के खिलाफ अमेरिकी नेवी सील कमांडोज की कार्रवाई के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी को पूरी तरह से विश्वास में लिया गया था और अमेरिका तथा पाकिस्तानी सरकार के बीच इस बारे में विशेष समझौता हुआ था. 

VIDEO: वायुसेना का ग्रुप कैप्टन ISI के जासूसी के जाल में फंसा
उन्होंने यह भी राय रखी कि पाकिस्तान ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले को ठीक तरह से नहीं संभाला.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement