NDTV Khabar

बेनजीर भुट्टो हत्या मामले में पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ भगोड़ा घोषित

पाकिस्तान की आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या मामले में पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को भगोड़ा घोषित कर दिया. अदालत ने साथ ही इस मामले में गिरफ्तार सभी पांचों आरोपियों को बरी कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बेनजीर भुट्टो हत्या मामले में पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ भगोड़ा घोषित

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. पाकिस्तान की आतंकवाद रोधी अदालत ने सुनाया फैसला
  2. कोर्ट ने मामले में गिरफ्तार सभी पांच आरोपियों को किया बरी
  3. कोर्ट ने पुलिस के दो अधिकारियों को सुनाई 17-17 साल की सजा
रावलपिंडी: पाकिस्तान की आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की हत्या मामले में पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को भगोड़ा घोषित कर दिया. अदालत ने साथ ही इस मामले में गिरफ्तार सभी पांचों आरोपियों को बरी कर दिया. न्यूज डॉट कॉम डॉट पीके की रिपोर्ट के अनुसार, अदालत ने साथ ही रावलपिंडी सेंट्रल पुलिस के पूर्व अधिकारी सउद अजीज और रावल शहर के पूर्व एसपी खुर्रम शाहजाद को 17-17 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है. दोनों पुलिस अधिकारियों को अदालत कक्ष से ही गिरफ्तार कर लिया गया.
 
यह भी पढ़ें : अमेरिकी पत्रकार ने अपनी गवाही में कहा, बेनजीर की हत्या के लिए मुशर्रफ जिम्मेदार

VIDEO: नेशनल रिपोर्टर : पाकिस्तान ने धार्मिक आतंकवाद को पाला

टिप्पणियां


सुनवाई के बाद फैसला रख लिया था सुरक्षित
एटीसी ने 2008 में ऐतजाज शाह, शेर जमान, अब्दुल राशिद, रफाकत हुसैन और हसनैन गुल को हत्या, हत्या की आपराधिक साजिश रचने, अपराधियों को उकसाने, अवैध विस्फोटक सामग्री के प्रयोग और 27 दिसंबर, 2007 को आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाया था, जब पूर्व प्रधानमंत्री समेत 22 लोग रावलपिंडी के लियाकत बाग के बाहर एक गोलीबारी और बम धमाके में मारे गए थे. उस समय भुट्टो एक चुनाव रैली से लौट रही थीं. मामले की सुनवाई पूरी करने के बाद एटीसी रावलपिंडी के न्यायाधीश मोहम्मद असगर खान ने फैसला सुरक्षित रख लिया था, जो गुरुवार को सुनाया गया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement