NDTV Khabar

थाईलैंड में भारतीयों का 'शादी घोटाला', Visa बढ़वाने के लिए करवाते थे फर्जी शादियां

इस मामले में कम से कम 20 अन्य भारतीय व्यक्ति और छह थाई महिलाएं फरार बताई जा रही हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
थाईलैंड में भारतीयों का 'शादी घोटाला', Visa बढ़वाने के लिए करवाते थे फर्जी शादियां

थाईलैंड में फर्जी विवाह घोटाले को लेकर 10 भारतीय पुरुष और 24 महिलाएं गिरफ्तार

नई दिल्ली: थाईलैंड में अपने कथित जीवनसाथी का वीजा बढ़ाने के लक्ष्य से फर्जी शादियां कराने के आरोप में दस भारतीय व्यक्तियों और 24 थाई महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है. द नेशन अखबार कि खबर के मुताबिक इस मामले में कम से कम 20 अन्य भारतीय व्यक्ति और छह थाई महिलाएं फरार बताई जा रही हैं.

इस अखबार के मुताबिक ये गिरफ्तारियां देश में अवैध तरीके से रह रहे विदेशियों पर आव्रजन पुलिस ब्यूरो (Immigration police bureau) द्वारा शुरु की गई कार्रवाई का हिस्सा हैं. पुलिस ने कहा कि ये संदिग्ध उन 30 भारतीय व्यक्तियों और 30 थाई महिलाओं में से हैं जिनके विरुद्ध अदालत ने सरकारी दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा करने, सरकारी अधिकारियों के समक्ष फर्जी दस्तावेज पेश करने और गलत सूचना देने को लेकर गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. इन लोगों के ऐसा करने से अन्य को नुकसान हो सकता है.

विराट-अनुष्का के बाद पीएम मोदी ने निक-प्रियंका को भी थमाया SAME तोहफा, खुद ही देख लें

बैंकाक के आव्रजन पुलिस ब्यूरो 1 ने 30 पुरुषों और 30 महिलाओं के बीच फर्जी शादियों का पता लगाया था. इन शादियों के संदर्भ में पुरुषों का वीजा बढ़ाने के लिए गलत दस्तावेज पेश किये गए. ये व्यक्ति अवैध साहूकारों, कपड़े और इलेक्ट्रिकल उपकरणों जैसी किस्तों पर ली जाने वाली चीजों के सेल्समैन के रूप में रहने लगे. 

पुलिस के मुताबिक 30 महिलाएं कथित रूप से इस मिलीभगत में शामिल थीं और उन्हें इन फर्जी शादियों के पंजीकरण के संदर्भ में 500-5000 बहट तक कथित रूप से मिले.

टिप्पणियां
निक जोनास ने अपने सूट पर लिखवाया 'मेरी जान', तो प्रियंका ने वेडिंग गाउन पर जड़वाया 'ओम नम: शिवाय'

VIDEO: इंटरनेट पर फर्जी शादियां
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement