NDTV Khabar

जी-20 के नेताओं ने आतंकवादियों की पनाहगाहों को नष्ट करने का लिया संकल्प

पीएम मोदी समेत जी-20 के नेताओं ने आतंकवाद की वैश्विक समस्या से निपटने के लिए संयुक्त प्रयास करने और उसे वित्तीय मदद देने वाले स्रोतों पर नकेल कसने का संकल्प लिया.

283 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जी-20 के नेताओं ने आतंकवादियों की पनाहगाहों को नष्ट करने का लिया संकल्प

खास बातें

  1. आतंकवाद से निपटने पर 21 बिंदुओं वाले संयुक्त घोषणा पत्र जारी
  2. आतंकियों को वित्तीय मदद पर रोक के लिए कड़े कदमों की घोषणा
  3. इंटरनेट से घृणा फैलाने वाली सामग्री हटाने की संचार सेवा प्रदाताओं से अपील
हैमबर्ग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत जी-20 नेताओं ने आतंकवाद की वैश्विक समस्या से निपटने के लिए संयुक्त प्रयास करने और उसे वित्तीय मदद देने वाले स्रोतों पर नकेल कसने का संकल्प लेते हुए कहा कि दुनिया से हर हिस्से से आतंकियों की सभी पनाहगाहों को नष्ट किया जाना चाहिए.

उन्होंने जी-20 शिखर सम्मेलन के पहले दिन आतंकवाद से निपटने पर 21 बिंदुओं वाले संयुक्त घोषणा पत्र में आपराधिक न्याय संबंधी कार्रवाई, एहतियातन कदम उठाने एवं संचालनात्मक सूचना साझा करने को लेकर खुफिया, कानून प्रवर्तन एवं न्यायिक प्राधिकारियों के बीच सूचना का तेज एवं लक्षित आदान प्रदान करने का संकल्प लिया.

जी-20 नेताओं ने आतंकवादी गतिविधियों के लिए वित्तीय मदद को रोकने के लिए यह संकल्प दोहराया कि वे संपूर्ण अंतरराष्ट्रीय वित्तीय प्रणाली को आतंकवादियों को वित्तीय मदद देने के प्रतिकूल बनाएंगे और निजी क्षेत्र के साथ मिलकर काम करने समेत सूचना के आदान-प्रदान को बढ़ाएंगे.

नेताओं ने इंटरनेट और सोशल मीडिया का दुरुपयोग करके आतंकी गतिविधियों के लिए फंड एकत्र करने, लोगों की भर्ती करने और कट्टरपंथ को बढ़ावा देने पर रोक लगाने के लिए कड़े कदम उठाए जाने की अपील की. उन्होंने निजी क्षेत्र के संचार सेवा प्रदाताओं से भी इंटरनेट से घृणा फैलाने वाली सामग्री हटाने के लिए आवश्यक कदम उठाने की अपील की.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement