NDTV Khabar

इस नायाब तरीके की मदद से Google दुनियाभर के मच्छरों का करेगी सफाया!

मच्छर की वजह से किसी अन्य जानवरों की तुलना में यह अधिक लोगों की जान लेता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक मच्छर के कारण हर साल करीब 10 लाख से अधिक मौतें होती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस नायाब तरीके की मदद से Google दुनियाभर के मच्छरों का करेगी सफाया!

गूगल का लोगो

खास बातें

  1. मच्छरों को खत्म करने के लिए गूगल का प्रोजेक्ट
  2. दुनियाभर के मच्छर हो सकते हैं साफ
  3. पैरेंट कंपनी 'अल्फाबेट' का प्रोजेक्ट
नई दिल्ली:

मच्छर की वजह से किसी अन्य जानवरों की तुलना में यह अधिक लोगों की जान लेता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक मच्छर के कारण हर साल करीब 10 लाख से अधिक मौतें होती हैं. मलेरिया, डेंगू, पीला बुखार, और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों के कारण हर साल लाखों लोग बीमार पड़ते हैं. यह सभी बीमारियां मच्छरों द्वारा ही होती हैं. ऐसा लगता है कि मच्छरों को जल्द ही दुनिया से खत्म किया जा सकता है. गूगल की पैरेंट कंपनी 'अल्फाबेट' इस प्रोजेक्ट पर काम कर रही है. इस कंपनी ने मच्छरों को जड़ से खत्म करने का नया तरीका निकाला है. 

'किसी ने कसर नहीं छोड़ी हमें मिटाने में, खुदा मुहाफिज रहा हर जमाने में'- महबूबा मुफ्ती के Tweet के क्या हैं मायने

कैलिफोर्निया के फ्रेंस्नो में साल 2017 से अल्फाबेट कंपनी के रिसर्च ऑर्गनाइजेशन के द्वारा एक प्रोजेक्ट पर काम किया जा रहा है, जिसमें मच्छरों को खत्म करने का तरीका निकाला है. डिबग प्रोजेक्ट कैलिफोर्निया की एक लैब में मच्छरों को पाल रहा है. ये मेल मच्छर वोल्बाचिया नामक जीवाणु से संक्रमित होते हैं, जो मादा मच्छरों में बांझपन का कारण बनता है. संक्रमित मच्छरों को मादा मच्छरों के साथ प्रजनन करने के लिए एक दिए गए क्षेत्र में छोड़ दिया जाता है और लक्ष्य यह होता है कि धीरे-धीरे मच्छरों की आबादी को कम करना है कि ताकि वह अपनी नई पीढ़ी को जन्म न दे सके.


यह प्रयोग कितना सफल रहा? फिलहाल, छह महीने के कोर्स खत्म होने के बाद डिबग ने कैलिफोर्निया के फ्रेस्नो में 15 मिलियन से अधिक संक्रमित मच्छरों को खुला छोड़ा. इसने पूरे दो-तिहाई मादा मच्छर काटने की आबादी को कम कर दिया. यह प्रोजेक्ट कुल मच्छरों की आबादी को 95% तक कम करने में सफल हुई.

राफेल केस : सुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को जारी किया अवमानना का नोटिस, व्यक्तिगत पेशी से छूट

टिप्पणियां

"डिबग एक अच्छी शुरुआत करने के लिए बंद है, लेकिन अभी भी बहुत कुछ करना बाकी है। हम समुदायों के साथ काम करने के लिए तत्पर हैं, यह दिखाने के लिए कि पर्याप्त अच्छी बग को जारी करने से डिबग का मच्छरों की आबादी और आपदा पर वास्तविक प्रभाव पड़ सकता है," अपनी वेबसाइट पर डिबग लिखते हैं । "आखिरकार, हम लाखों लोगों को लंबे समय तक स्वस्थ रहने में मदद करने की उम्मीद करते हैं।"

दुनियाभर से मच्छरों को खत्म करने के लिए गूगल की कंपनी अल्फाबेट बेहद आक्रामक है. इसके लिए गूगल ने एक हेल्थ चीफ एक्जीक्यूटिव भी नियुक्त किया है. दुनियाभर में कई सरकारें और बिजनेसमैन मच्छरों से होने वाली समस्या की रोकथाम के लिए मदद को भी तैयार हैं. 2019 में गूगल के लिए मच्छरों को खत्म करना चैलेंजिंग काम होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement