भारत में किसान आंदोलन पर US में हलचल, विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ को 7 सांसदों ने लिखी चिट्ठी

देशभर के कई किसान संगठनों के बैनर तले हजारों किसान नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर पिछले एक महीने से दिल्ली की सीमाओं पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

भारत में किसान आंदोलन पर US में हलचल, विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ को 7 सांसदों ने लिखी चिट्ठी

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ. (फाइल फोटो)

वाशिंगटन:

सात प्रभावशाली अमेरिकी सांसदों के एक समूह, जिसमें भारतीय-अमेरिकी महिला सांसद प्रमिला जयपाल भी शामिल हैं, ने विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ को पत्र लिखकर अपने भारतीय समकक्ष के साथ भारत में चल रहे किसानों के विरोध-प्रदर्शन (Farmers Protest) का मुद्दा उठाने का आग्रह किया है. भारत ने विदेशी नेताओं और राजनेताओं द्वारा किसानों के विरोध पर की गई टिप्पणियों को ''अनुचित" और ''अधूरी व गलत सूचना पर आधारित'' करार दिया है. इसके साथ ही कहा है कि यह मामला एक लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मामलों से संबंधित है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने इस महीने के शुरुआत में कहा था, "हमने कुछ अधूरी सूचनाओं पर आधारित टिप्पणियों को देखा है.. जो भारत में किसानों से संबंधित हैं. ऐसी टिप्पणियां अनुचित हैं, खासकर जो एक लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मामलों से संबंधित हैं."

किसान आंदोलन में पीज़ा लंगर का मजाक उड़ाने वालों पर बरसा एक्टर, बोला- 'अरे बेवकूफों...' - देखें Video

अमेरिकी सांसदों ने 23 दिसंबर को माइक पोम्पिओ को लिखे अपने पत्र में कहा है कि यह आंदोलन पंजाब से जुड़े सिख अमेरिकियों के लिए विशेष रूप से चिंता का विषय है. इसके साथ ही यह अन्य भारतीय राज्यों से संबंधित भारतीय अमेरिकियों को भी काफी प्रभावित करता है.

सांसदों के ग्रुप ने लिखा है, "कई भारतीय अमेरिकी इससे सीधे प्रभावित होते हैं क्योंकि पंजाब उनकी पैतृक भूमि है और उनके परिवार के सदस्य वहां रहते हैं. ये भारत में अपने परिवारों की भलाई के लिए चिंतित हैं. इस गंभीर स्थिति को देखते हुए, हम आपसे संयुक्त राज्य को सुदृढ़ करने के लिए विदेश में राजनीतिक भाषण की स्वतंत्रता की प्रतिबद्धता के लिए अपने भारतीय समकक्ष से संपर्क करने का आग्रह करते हैं."

'हर तहसील में बड़ी स्क्रीन, पम्पलेट' PM मोदी की बात किसानों तक पहुंचाने की BJP की बड़ी तैयारी


अपने पत्र में, सांसदों ने कहा कि अमेरिका एक ऐसा राष्ट्र है जो राजनीतिक विरोध से परिचित है और सामाजिक गड़बड़ी की वर्तमान अवधि के दौरान भारत को परामर्श दे सकता है.

वीडियो- आज देश के किसानों के बीच होंगे PM नरेंद्र मोदी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com