NDTV Khabar

कश्मीर और पाकिस्तान के मामले पर डोनाल्ड ट्रंप से वार्ता की उम्मीद : एचएएफ

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर और पाकिस्तान के मामले पर डोनाल्ड ट्रंप से वार्ता की उम्मीद : एचएएफ

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

न्यूयॉर्क: ‘हिन्दू-अमेरिकियों’ के एक संगठन ने उम्मीद जताई है कि वह अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुने गए डोनाल्ड ट्रंप के साथ मिलकर कश्मीर, कट्टरपंथी इस्लाम द्वारा पैदा किए गए आतंकवाद और ‘आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों’ के साथ अमेरिका के संबंधों पर वार्ता करेगा.

हिन्दू अमेरिकन फाउंडेशन (एचएएफ) ने अमेरिका का 45वां राष्ट्रपति चुने जाने पर 70 वर्षीय रिपब्लिकन को बधाई दी और कहा कि वह ‘हिन्दू अमेरिकी समुदाय में कई लोगों की गहरी चिंता के मामलों’ से निपटने के लिए उनके प्रशासन के साथ काम करने का इच्छुक है.

समूह ने एक बयान में कहा, हमारे देश की विदेश नीति को आगे बढ़ाते हुए एचएएफ की मुख्य चिंताएं हैं : हिन्दुओं और अन्य धार्मिक अल्पसंख्यकों के साथ विश्वभर में, खासकर पाकिस्तान एवं बांग्लादेश जैसे देशों में हो रहा मानवाधिकार का घोर उल्लंघन. ये वे देश हैं, जहां कट्टरपंथी इस्लाम आतंकवाद एवं हिंसा को बढ़ावा दे रहा है. अन्य प्रमुख चिंताएं हैं- पाकिस्तान द्वारा कश्मीर में छेड़ा या छद्म युद्ध एवं कश्मीर में हिन्दू अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा और इसके साथ ही आतंकवाद को प्रायोजित करने वाले देशों के साथ अमेरिका के द्विपक्षीय संबंध.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement