NDTV Khabar

मध्य अमेरिकी देश पनामा और कोस्टा रिका में भीषण बिजली संकट, लाखों लोग अंधेरे में

पनामा से लेकर कोस्टारिका और अल सलवाडोर तक अधिकारी बिजली सेवा बहाल करने की कोशिश में जुटे हैं. बिजली जाने से सिर्फ कोस्टारिका में ही करीब 50 लाख लोग प्रभावित हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्य अमेरिकी देश पनामा और कोस्टा रिका में भीषण बिजली संकट, लाखों लोग अंधेरे में

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. बिजली जाने से सिर्फ कोस्टा रिका में ही 50 लाख लोग प्रभावित
  2. कोस्टारिका में ट्रैफिक लाइट बंद होने से अफरातफरी
  3. अधिकारियों ने पनामा की बिजली आपूर्ति लाइन को जिम्मेदार ठहराया
बिजली के संकट से इकलौते हम ही नहीं जूझते. इन दिनों अमेरिका के भी कई इलाकों में अंधेरा फैला है. मध्य अमेरिका के पनामा से लेकर कोस्टा रिका और अल सलवाडोर तक अधिकारी बिजली सेवा बहाल करने की कोशिश में जुटे हैं. बिजली जाने से सिर्फ कोस्टा रिका में ही करीब 50 लाख लोग प्रभावित हैं. वहीं शनिवार को लगभग 5 घंटे तक देशभर में बिजली संकट होने के बाद अधिकारी किसी तरह बिजली सेवा को बहाल करने में सफल रहे.

अधिकारियों ने बिजली संकट के लिए पनामा की बिजली आपूर्ति लाइन को जिम्मेदार ठहराया है. जिसके चलते अधिकतर क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति पर असर पड़ा है. कोस्टारिका में बिजली संकट के कारण ट्रैफिक लाइट बंद होने से अफरातफरी फैल गई. वहीं, सैन जोंस में बिजली की आपूर्ति बहाल होने तक मुख्य हवाईअड्डा को मौजूद अतिरिक्त बिजली उपकरण से संचालित किया गया. 

टिप्पणियां
संचार मंत्री मौरिसियो हेरारा ने कहा, आईसीई समस्या का निराकरण करने का प्रयास कर रहा है. कर्मचारी कोस्टारिका के कुछ क्षेत्र में बिजली बहाल करने में सफल रहे हैं. आईसीई ने बताया कि बिजली संकट का मूल स्थान देश के बाहर था. उन्होंने लोगों से घरों के अंदर ही रहने की अपील करते हुए कहा कि वे समस्या के समाधान की कोशिश कर रहे हैं.
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement