NDTV Khabar

आईएटीए ने पश्चिम एशिया के देशों के कतर पर हवाई यातायात अंकुश का विरोध किया

आईएटीए का कहना है कि हवाई संपर्क तत्काल बहाल होना चाहिए. इन देशों ने दोहा के साथ अपने राजनयिक रिश्ते खत्म करने की घोषणा की है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आईएटीए ने पश्चिम एशिया के देशों के कतर पर हवाई यातायात अंकुश का विरोध किया

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. आईएटीए ने कुछ पश्चिम एशिया के देशों के अंकुशों का विरोध किया
  2. आईएटीए का कहना है कि हवाई संपर्क तत्काल बहाल होना चाहिए.
  3. इन देशों ने दोहा के साथ अपने राजनयिक रिश्ते खत्म करने की घोषणा की है.
कानकुन (मेक्सिको): वैश्विक एयरलाइंस के निकाय अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन संघ (आईएटीए) ने कुछ पश्चिम एशिया के देशों द्वारा कतर पर लगाए गए हवाई यात्रा अंकुशों का विरोध किया है. आईएटीए का कहना है कि हवाई संपर्क तत्काल बहाल होना चाहिए. इन देशों ने दोहा के साथ अपने राजनयिक रिश्ते खत्म करने की घोषणा की है.

आईएटीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और महानिदेशक एलेग्जेंडर डे जूलियाक ने सवालों के जवाब में कहा कि हम इस प्रतिबंध के पक्ष में नहीं हैं. हम चाहेंगे के हवाई संपर्क जल्द से जल्द बहाल लागू किया जाए.

सउदी अरब, मिस्र, संयुक्त अरब अमीरात और बहरीन ने कतर से राजनयिक संबंध समाप्त कर लिए हैं और परिवहन संपर्क भी समाप्त कर लिए हैं. इन देशों द्वारा कतर से हवाई संपर्क समाप्त होने से बड़ी संख्या में भारतीय भी प्रभावित होंगे, जो दोहा के रास्ते यूरोप और अमेरिका जाते हैं.

वायु यातायात के ताजा आंकड़े जारी करते हुए डे जूनियाक और आईएटीए के अन्य अधिकारियों ने कहा कि भारत सहित एशिया प्रशांत से हवाई यातायात की मांग पिछले कुछ सप्ताह से सतत है. पश्चिम एशिया से उत्तरी अमेरिका के गंतव्यों को इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरणों पर अमेरिकी प्रतिबंध से इसकी दर प्रभावित हुई है.

अमेरिका द्वारा 21 मार्च को इलेक्ट्रानिक उपकरणों पर प्रतिबंध की घोषणा के बाद पश्चिम एशिया की एयरलाइंस का अमेरिका को राजस्व माह के दौरान सालाना आधार पर 2.8 प्रतिशत घटा है.

आईएटीए सालाना बैठक और विश्व हवाई परिवहन सम्मेलन का आयोजन कर रहा है. आईएटीए के आंकड़ों के अनुसार भारत का घरेलू यातायात राजस्व 15.3 प्रतिशत प्रति किलोमीटर की दर से बढ़ा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement