Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

अगर पाक से इजाजत मांगता तो ओसामा को नहीं मार पाता : ओबामा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगर पाक से इजाजत मांगता तो ओसामा को नहीं मार पाता : ओबामा

खास बातें

  1. अमेरिका में 6 नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से महज दो हफ्ते पहले आखिरी तीन महत्वपूर्ण बहसों के दौरान ओबामा ने कहा, अगर हमने पाकिस्तान से इजाजत मांगी होती तो हम उसे नहीं खोज पाते।
वाशिंगटन:

राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि अगर अमेरिका अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के लिए पाकिस्तान की इजाजत मांगता तो कभी उसे नहीं मार पाता। इस बयान से ओबामा ने पाकिस्तानी नेतृत्व और खासकर उसकी सेना के साथ विश्वास की कमी दर्शायी।

अमेरिका में 6 नवंबर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से महज दो हफ्ते पहले आखिरी तीन महत्वपूर्ण बहसों के दौरान ओबामा ने कहा, अगर हमने पाकिस्तान से इजाजत मांगी होती तो हम उसे नहीं खोज पाते। यह उसे खोजने के लिए आकाश और धरती की खाक छानने जैसा था। ओबामा ने कहा कि उन्होंने अलकायदा और ओसामा बिन लादेन को लेकर जो वादा किया था उसे निभाया।

उन्होंने कहा, जब ओसामा बिन लादेन के पीछे पड़ने की बात थी तो आपने कहा कि ठीक है यह काम तो कोई भी राष्ट्रपति करेगा, लेकिन जब आप 2008 में उम्मीदवार थे जैसे कि मैं भी था तो मैंने कहा था कि अगर ओसामा हमारी नजरों में आ गया तो हम उसे छोड़ेंगे नहीं। तब आपने कहा था कि हमें एक आदमी के पीछे आसमान और धरती की खाक नहीं छाननी चाहिए और हमें पाकिस्तान से इजाजत लेनी चाहिए। हालांकि रोमनी ने इस बात पर सहमति जताई कि पाकिस्तान की इजाजत के बिना ओसामा की तलाश करना सही था।

बहस में अफगान-पाक विषय पर राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार ने कहा, पाकिस्तान के साथ तनावपूर्ण रिश्तों के लिए मैं प्रशासन को जिम्मेदार नहीं ठहराता। हमें पाकिस्तान में जाना पड़ा। हमें ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के लिए ऐसा करना पड़ा। यह सही तरीका था। एक सवाल के जवाब में रोमनी ने दलील दी कि पाकिस्तान के साथ तनावपूर्ण रिश्तों के बावजूद अमेरिका उससे संबंधों को तोड़ नहीं सकता, जहां 100 से ज्यादा परमाणु हथियार हैं।


रोमनी ने कहा, यह समय उस देश के साथ संबंध खत्म करने का नहीं है, जिसके पास सौ परमाणु हथियार हैं और जो इन्हें दोगुना करने की राह पर है। एक ऐसा देश जिसे उसके भीतर मौजूद आतंकवादी संगठनों से, तालिबान और हक्कानी नेटवर्क से खतरा है। यह ऐसा देश है जो अन्य की तरह नहीं है। उन्होंने कहा, पाकिस्तान क्षेत्र के लिए, दुनिया के लिए और हमारे लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि पाकिस्तान के पास 100 परमाणु हथियार हैं और वे और अधिक हथियार बनाने की दिशा में लगे हुए हैं। निकट भविष्य में उनके पास ग्रेट ब्रिटेन से अधिक परमाणु हथियार होंगे। रोमनी ने कहा, उनके देश में हक्कानी नेटवर्क और तालिबान है। बंटा हुआ पाकिस्तान एक नाकाम देश होगा, जो अफगानिस्तान और हमारे लिए बड़ा खतरा होगा। इसलिए हमें पाकिस्तान को और अधिक स्थिर सरकार बनाने में तथा हमारे साथ रिश्तों को मजबूत करने के लिए मदद करती रहनी होगी। और इसका मतलब है कि पाकिस्तान को हमारी ओर से दी जाने वाली सहायता कुछ निश्चित मानकों पर आधारित होगी। उन्होंने कहा कि आईएसआई संभवत: फिलहाल पाकिस्तानी सेना का सबसे ताकतवर हिस्सा है।

टिप्पणियां

रोमनी ने कहा, तकनीकीतौर पर पाकिस्तान सहयोगी है और फिलहाल वह सहयोगी की तरह काम नहीं कर रहे हैं, लेकिन हमें कुछ काम करना होगा। रोमनी ने कहा, हमारे लिए यह मानना अहम होगा कि हम पाकिस्तान से दूरी नहीं बना सकते। उन्होंने आतंकवादियों को मार गिराने के लिए ड्रोनों के इस्तेमाल का समर्थन करते हुए कहा कि ओबामा इस तकनीक के इस्तेमाल के मामले में सही हैं और हमें इसे जारी रखना चाहिए।

रोमनी ने कहा, हम दुनिया को आतंकवाद और इस्लामी उग्रवाद से दूर करने में मदद करने के लिहाज से अधिक प्रभावी एवं व्यापक रणनीति हासिल करने की दिशा में काम करेंगे।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सलमान खान की एक्ट्रेस को घर में रहकर काटनी पड़ी भिंडी, Photo और Video शेयर कर बोलीं- कुछ भी करो लेकिन घर पर...

Advertisement